बरेली, जेएनएन। Fraud in Bareilly : जालसाजी का हैरान करने वाला मामला सामने आया है। 12वीं में पढ़ने वाले छात्र को जिला अस्पताल में संविदा के पद पर नौकरी लगवाने का झांसा देकर जालसाज छात्र की बाइक लेकर फरार हो गया। नवाबगंज के सेंथल टांडा गांव के रहने वाले छात्र नाजिर ने बारादरी पुलिस को दी गई तहरीर में बताया कि पढ़ाई के साथ वह मेडिकल स्टोर पर काम करता है। पढ़ाई के समय से ही आरोपित से उसकी मुलाकात हुई।

आरोप है कि आरोपित ने नाजिर को जिला अस्पताल में संविदा के पद पर नौकरी लगवाने का झांसा दिया। इसी के तहत 26 नवंबर को वह पीलीभीत बाईपास रोड स्थित एक निजी अस्पताल पर रुका। रुकते ही एक निजी कार्य का हवाला देते हुए बाइक मांगी और थोड़ी देर में आने की बात कही लेकिन, वह नहीं लौटा। फाेन किया तो आरोपित का नंबर भी बंद जाता रहा। बारादरी इंस्पेक्टर नीरज मलिक ने बताया कि फोन नंबर के जरिए आरोपित की तलाश कराई जा रही है।

गुटखा न लाने पर कारोबारी के बेटे की पिटाई : गुटखा न लाने पर कारोबारी के बेटे की पिटाई कर दी गई। मामला सुभाषनगर का है। सुभाषनगर के बीडीए कालोनी के प्रगति नगर के रहने वाले अखिलेश उपाध्याय ने बताया कि वह रियल एस्टेट का काम करते हैं। आरोप है कि 26 नवंबर की शाम करीब सवा सात बजे बच्चे घर के बाहर खेल रहे थे। उसी समय कालोनी का ही रहने वाला फिल्टर पानी प्लांट संचालक अनुज शराब के नशे में आ धमका। बेटे से गुटखा मंगाने लगा। इन्कार करने पर गाली-गलौच की और पिटाई शुरू कर दी। आसपास के लोगों ने बीच-बचाव किया तो मामला शांत हुआ। सुभाषनगर पुलिस ने आरोपित के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज की है।

Edited By: Samanvay Pandey