बरेली, जागरण संवाददाता। Copyright Violation Case:  होली चौराहे काली बाड़ी एवं मोहल्ला भूड़ प्रेमनगर के रहने वाले चार कारोबारी धोखाधड़ी व कापीराइट एक्ट की प्राथमिकी में फंस गए हैं। आरोपित तनु मोदी खंडेलवाल, विकास खंडेलवाल, रितेश खंडेलवाल उर्फ भूरा एवं तुषार अग्रवाल पर दूसरे फर्म के मिलते-जुलते नाम से उत्पाद बेच कारोबार प्रभावित करने का आरोप है। बारादरी पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

प्रेमनगर के शिव शक्ति एस्टेट कालोनी निवासी सचिन कुमार गुप्ता ने लिखाई गई प्राथमिकी में बताया कि वह अपनी साझेदारी फर्म से सरसों के तेल, रिफाइंड व घी के थोक व्यापार एवं पैकिंग का कारोबार करते हैं। कारोबार शुरू करने के दौरान ही उत्पाद को अपने नाम से डिजाइन कराया। बाजार में उत्पादों का अच्छा परिणाम मिलने लगा।

आरोप हैं कि होली चौहारा कालीबाड़ी के रहने वाले तनु मोदी खंडेलवाल, विकास खंडेलवाल, रितेश खंडेलवाल उर्फ भूरा एवं मोहल्ला भूड़ निवासी तुषार अग्रवाल ने उनके सचिन रिफाइंड नाम से मिलते-जुलता सतिन रिफाइंड नाम से काम शुरू कर दिया। इसी के बाद से बाजार में उपभोक्तओं में भ्रम की स्थिति बन गई। शिकायतें आने लगीं। बारादरी इंस्पेक्टर नीरज मलिक ने बताया कि शिकायती पत्र के आधार पर मामले में आरोपितों पर प्राथमिकी लिखी गई है। साक्ष्यों के आधार पर आगे की कार्रवाई सुनिश्चित कराई जाएगी।

Edited By: Vivek Bajpai

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट