जेएनएन, बरेली : लकी के हत्यारोपित भले ही जेल चले गए हों, लेकिन उसके परिजन इतने भर से संतुष्ट नहीं हैं। पुलिस की ओर से किए गए आधे-अधूरे पर्दाफाश की शिकायत अब पीएमओ तक पहुंच गई है। लकी के पिता विनीत बाजपेई ने थाना सुभाष नगर पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए एक शिकायती पत्र पीएमओ, सीएम, डीजीपी, एडीजी जोन और डीआइजी को ट्वीट किया है। उन्होंने मामले में संज्ञान लेकर अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी व लापरवाही बरतने वाले पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई की मांग की है।

Police करती रही नजर अंदाज, लगाया आरोप

लकी के पिता विनीत ने आरोप लगाया है कि वह सुभाष नगर पुलिस से लगातार कहते रहे कि गगन और दीपक को बेटे के बारे में जानकारी है। लेकिन पुलिस उनकी बात को नजरअंदाज करती रही। उनके पास से बाइक बरामद होने के बाद भी पुलिस ने जिम्मेदारी से उनसे पूछताछ नहीं की।

उन्होंने इन बातों का हवाला देते हुए दारोगा कमलेश मिश्र, विक्रम सिंह और इंस्पेक्टर हरीश चंद्र जोशी को पूरी घटना में आरोपितों का भागीदार बताया। कहाकि घटना में गनन और दीपक के अलावा अन्य लोग भी शामिल हैं। उन्होंने निष्पक्ष जांच कराकर आरोपितों सजा दिलाने की मांग की है।

Crime Branch की Team पर फिर जताया भरोसा

जांच मिलने के चार दिन में ही खुलासा करने वाली बरेली क्राइम ब्रांच पर लकी के पिता को पूरा भरोसा है। उन्होंने डीजीपी से मामले की दोबारा जांच क्राइम ब्रांच से कराने की गुहार लगाई है।

Mobile तलाशने घटनास्थल पहुंचे भाई व अन्य रिश्तेदार

लकी के भाई और रिश्तेदारों ने बताया कि पुलिस को अब तक उसका मोबाइल नहीं मिला है। उसके पास मौजूद कुछ अन्य सामान भी अभी नहीं मिला है। जबकि जेल भेजे गए आरोपितों की निशानदेही पर बाइक छह अक्टूबर को ही बरामद हो गई थी।

इसके चलते लकी का भाई, पिता व अन्य रिश्तेदार मोबाइल तलाशने लखनऊ दिल्ली हाइवे पर शव मिलने वाले स्थान पर पहुंचे। यहां मोबाइल तलाशने के लिए काफी छानबीन की लेकिन वह नहीं मिला।

Postmortem Report में स्पष्ट नहीं हुई थी मौत की वजह

गुरुवार को उस शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आई जिसकी शिनाख्त लकी के रूप में की गई थी। इसमें शव के खराब हो जाने के चलते मौत की वजह स्पष्ट न होना बताया गया। वहीं शव की आयु पीएम रिपोर्ट में 42 वर्ष ही बताई गई है। वहीं उसकी मौत करीब चार सप्ताह पहले होना दर्शाया गया है। मौत की वजह स्पष्ट न होने के चलते विसरा भी सुरक्षित किया गया था।

Posted By: Abhishek Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस