बरेली, जेएनएन।बदायूं जिले में शनिवार की रात दो यौन शोषण की घटनाओं ने रिश्ते शर्मसार कर दिए। वजीरगंज के बाद उसहैत थाना क्षेत्र के एक गांव में आधी रात पिता ही बेटी के लिए हैवान बन गया। पिता ने 13 वर्षीय बेटी के साथ हैवानियत की कोशिश की है। सोमवार को दिल्ली से लौटे लड़की के बड़े भाई ने आरोपित पिता के खिलाफ तहरीर दी। पुलिस ने छेड़छाड़, पाक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्जकर मंगलवार को आरोपित पिता को जेल भेज दिया है।

उसहैत थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी 45 वर्षीय व्यक्ति की पत्नी का डेढ़ साल पहले बीमारी से निधन हो गया था। उसके चार बेटे और एक 13 वर्षीय बेटी है। बड़ा बेटा दिल्ली में काम करता है। तीन बेटेे घर पर ही बहन के साथ रहते हैंं। जिनमें एक बेटा दिव्यांग है। लड़की के पुलिस को दिए गए बयानों पर दर्ज मुकदमे के मुताबिक 31 जुलाई की रात उसके पिता ने उसे सोने के लिए कमरे में बुलाया। 

आधी रात पिता ने छेड़छाड़ शुरू कर दी। इस पर लड़की को असहज महसूस हुआ तो उसने विरोध जताया और वहां से उठकर भाई के पास चली गई। रविवार की दोपहर पिता से छिपकर लड़की ने घटना की जानकारी दिल्ली में रह रहे बड़े भाई को बताई। इस पर भाई सोमवार को घर पहुंचा। घर पहुंचने पर पिता वहां से लापता हो गए। भाई ने घटना की जानकारी थाना पुलिस को दी।

थाना पुलिस गांव पहुंच गई। महिला आरक्षी ने लड़की के बयान लिए तो उसने पिता द्वारा की गई हरकतों को बता दिया। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए भाई की तहरीर पर आरोपित पिता के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस ने मंगलवार को आरोपित पिता को गिरफ्तार कर उसे जेल भेज दिया। इस संबंध में उसहैत थाने के इंस्पेक्टर चेतराम वर्मा ने बताया कि लड़की का मेडिकल परीक्षण कराया गया है। बेटे की तहरीर पर आरोपित पिता के खिलाफ मुकदमा दर्जकर उसे जेल भेज दिया गया है। मामले की जांच की जा रही है।

Edited By: Samanvay Pandey