बरेली, जेएनएन। ED Raid in Bareilly : अवैध शराब बाजार में खपाकर करोड़ों रुपये की टैक्स चोरी के मामले में गुरुवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शराब कारोबारी अजय जायसवाल के घर छापामार कार्रवाई की। करीब पांच घटे तक चली कार्रवाई में टीम ने घर का चप्पा-चप्पा छानकर दस्तावेज खंगाले। टीम अहम साक्ष्यों को अपने साथ लेकर लखनऊ रवाना हो गई। मामला सहारनपुर की टपरी डिस्टलरी से अवैध रूप से बाजार में शराब खपा करोड़ों रुपये की टैक्स चोरी से जुड़ा है। पूरे मामले की जांच एसआइटी कर रही है चूंकि, करोड़ों रुपये टैक्स चोरी का मामला है। इसलिए एसआइटी के साथ ईडी भी जांच में जुटी है।

सहारनपुर की टपरी डिस्टलरी पर तीन मार्च एसटीएफ ने छापामार कार्रवाई की थी। आठ आरोपितों को गिरफ्तार किया गया था। सामने आया था कि आबकारी डिस्ट्रीब्यूटरों व ट्रांसपोर्टरों के साथ मिलकर शराब फैक्ट्री के अभिलेखों में हेराफेरी कर बड़े पैमाने पर टैक्स व एक्साइज ड्यूटी की चोरी कर प्रतिमाह करोड़ों रुपये का राजस्व नुकसान पहुंचाया जा रहा था। बड़ी टैक्स चोरी का मामला सामने आने पर शासन ने जांच एसआइटी को सौंपी थी।

एसआइटी जांच में सौ करोड़ रुपये से अधिक की टैक्स चोरी की बात उजागर हुई। इसके बाद पूरे प्रकरण में बरेली के माडल टाउन निवासी डिस्टलरी के मालिक प्रणव अनेजा, अजय जायसवाल समेत 18 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इधर, सहारनपुर की टपरी डिस्टलरी के तीन मार्च को सीज होने के बाद भी इसी डिस्टलरी से एक ट्रक शराब कानपुर के लिए चला जिसे 24 मार्च को बरेली के बीसलपुर रोड पर एसओजी टीम ने पकड़ लिया।

ट्रक चालक संजय को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। पूछताछ में उसने बताया था कि शराब मनोज जायसवाल के द्वारा मंगाई गई थी। दोनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ। पूछताछ में सामने आया कि मनोज जायसवाल अजय जायसवाल का रिश्तेदार है। शराब अजय जायसवाल की डिस्टलरी से ही भेजी गई थी। एसटीएफ की कार्रवाई के बाद से ही से शराब कारोबारी फरार है।

टपरी डिस्टलरी से जुड़े तार, एसआइटी को सौंपी गई थी जांच

बारादरी में पकड़ी गई शराब के तार भी सहारनपुर की टपरी डिस्टलरी से जुड़े पाए गए। मनोज जायसवाल व अजय जायसवाल के रिश्तेदार होने की बात सामने आई। इसी के बाद बारादरी में पकड़ी गई शराब के दर्ज मुकदमे की पूरी जांच शासन ने एसआइटी को सौंप दी थी। एसआइटी ने आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी थी। एसआइटी के साथ-साथ सौ करोड़ रुपये से अधिक टैक्स चोरी का मामला होने के चलते प्रवर्तन निदेशालय ने भी जांच तेज कर दी है।

घर की तलाशी के लिए ईडी की टीम ने एसएसपी से मांगी फोर्स

शराब कारोबारी अजय जायसवाल के घर तलाशी के लिए ईडी ने एसएसपी रोहित सिंह सजवाण से फोर्स की मांग की। इसके बाद एसएसपी के निर्देश पर लाइन से छह पुलिसकर्मियों की टीम भेजी गई। पुलिस लाइन से भेजी गई टीम में दो दारोगा, तीन सिपाही व एक महिला सिपाही शामिल थी।

जांच के लिए ईडी की ओर से फोर्स की मांग की गई थी। टीम की मदद के लिए लाइन से छह पुलिसकर्मियों की टीम भेजी गई थी। - रोहित सिंह सजवाण, एसएसपी

Edited By: Ravi Mishra