बदायूं, जेएनएन। शहर की सड़कों से गुरुवार को भी अतिक्रमण हटाया गया। मथुरिया चौक से कबूलपुरा मुहल्ले में छोटे सरकार रोड से अति्रमण हटवाया गया। चबूतरा तोड़े जाने पर एक अति्रमणकारी बुलडोजर के आगे लेट गया, लेकिन पुलिस कर्मियों ने तत्काल उसे हटा दिया और उसे हिरासत में ले लिया। भीड़ एकत्रित होने पर कोतवाल ने लाठियां फटकार कर लोगों को खदेड़ दिया।

नगर पालिका में रणनीति तय हुई। प्रभारी ईओ, सिटी मजिस्ट्रेट अमित कुमार के निर्देशन में बुलडोजर लेकर टीम मथुरिया चौक पर पहुंची। कबूलुपुरा-छोटे सरकार मार्ग पर तोड़फोड़ शुरू हुई तो जेई कृष्ण चंद्र और नगर पालिका के कर्मचारी निशान लगवाकर अतिक्रमण हटवाते रहे। यहां एक दुकानदार की टीनशेड गिरा दी गई, जबकि दूसरी तरफ चबूतरा तोड़ डाला। इतने में दुकानदार आपा खो गया और टीम के खिलाफ भड़ गया। उसने हंगामा किया और बुलडोजर के आगे लेट गया। जिसे पुलिस कर्मियों ने हटा दिया और फिर भीड़ को कोतवाल ने दौड़ा दिया तब कहीं मामला ठंडा हुआ है। अभियान में कई लोगों का सामान जब्त किया, कई लोगों ने खुद ही अतिक्रमण हटा लिया।

घरों पर अफसर, उलझ रहे कर्मचारी: अतिक्रमण अभियान केवल नगर पालिका के कर्मचारियों और पुलिस के हवाले छोड़ दिया है। अभियान में कोई भी उच्चाधिकारी नहीं रह रहा है। अभियान में ईओ, सिटी मजिस्ट्रेट, सीओ, एसडीएम सदर कोई नहीं है। सिर्फ कर्मचारियों को जेसीबी लेकर भेज दिया जा रहा है। जिससे विरोध हो रहा है और पक्षपात के आरोप लगाकर कर्मचारियों से लोग उलझ रहे हैं।

केबल बाक्स में लगी आग: मथुरिया चौक पर अतिक्रमण अभियान चलाया तो अंडरग्राउंड केबिल वाक्स एक चपेट में आ गया। जिसकी वजह से केबिल वाक्स की केबिल और अंदर की लाइनें डैमेज हो गईं। जिससे बिजली के फाल्ट हुए और केबिल में आग लग गई। जिससे आसपास के लोग डर गए।

प्रभारी ईओ नगर पालिका बदायूं अमित कुमार ने कहा कि अतिक्रमण हटाने टीम जेई के नेतृत्व में भेजी गई थी, अतिक्रमण अभियान के दौरान थोडा़ बहुत तो विरोध होता है। सरकार के निर्देश पर अभियान चलाया जा रहा है। कोतवाल सहित पुलिस बल इसीलिए लगाया था ताकि कहीं कोई विवाद न होने पाए। सुझाव दिया गया है कि दुकानदार खुद अतिक्रमण हटा लें।

Edited By: Vivek Bajpai