बरेली, जेएनएन। Paddy Procurement in Pilibhit : यूपी के पीलीभीत के पूरनपुर मंडी समिति में धान की खरीद न होने से नाराज किसान नेता ने आत्महत्या करने के लिए फंदा बनाना शुरू कर दिया। जिससे मंडी समिति परिसर में अफरा तफरी मच गई। मौजूद किसानों ने किसी तरह उन्हें रोका। हालांकि धान खरीद शुरू करा दी गई।

पूरनपुर कोतवाली क्षेत्र के गांव मुझा कलां के किसान एवं अन्नदाता किसान यूनियन के प्रदेश महामंत्री बलजिंदर सिंह ने कृषि उत्पादन मंडी समिति में लगे क्रय केंद्र के सामने आत्महत्या करने के लिए फंदा बनाना शुरू कर दिया। इस पर उन्हें किसानों ने बमुश्किल रोका। उनका कहना है कि वह 11 अक्टूबर को अपना धान लेकर मंडी आए हैं। नमी होने के कारण तीन दिन तक उसको सुखाया। सोमवार को जब नंबर आया तो बारदाना न होने की बात कही गई। इससे परेशान होकर उन्होंने आत्महत्या का प्रयास किया। हालांकि इसके बाद किसान के धान की खरीद शुरू करा दी गई। सूचना मिलने के बाद उप जिलाधिकारी रामस्वरूप मौके पर पहुंच गए।

नायब तहसीलदार ने दी धमकी, किसानाें ने घेरा, सुनाई खरी-खोटी

पूरनपुर स्थित कृषि उत्पादन मंडी समिति में सोमवार को जायजा लेने पहुंचे नायब तहसीलदार आनंद प्रकाश राय से किसानों की नोकझोंक हो गई। नायब तहसीलदार ने एक किसान से देख लेने की धमकी दी। जिससे वहां मौजूद किसान उग्र हो गए। उन्होंने नायब तहसीलदार को घेर लिया। उन्हें जमकर खरी-खोटी सुनाई। गाड़ी में तत्काल ले जाने की सभी बात करने लगे। इस दौरान उप जिलाधिकारी रामस्वरूप मौके पर पहुंच गए।

उन्होंने किसानों को अब दोबारा नायब तहसीलदार के मंडी समिति में न आने की बात कही। इसके बाद किसान शांत हुए। किसानों का कहना है कि नायब तहसीलदार ने गांव वक्तापुर में भी अभद्र भाषा का प्रयोग किया था। उनके इस व्यवहार को लेकर किसानों में आक्रोश है। 

Edited By: Ravi Mishra