बरेली, जेएनएन : शहर के एक प्रमुख नेता का बेटा प्रतिष्ठित स्कूल में अध्ययनरत है। किसी बात से नाराज होकर नेता के बेटे को एक शिक्षिका ने थप्पड़ जड़ दिया। जवाब में वहां नेता पहुंच गए और उन्होंने हंगामा किया। देर शाम तक इस बात की चर्चा राजनीतिक और प्रशासनिक गलियारों में होने लगी। रात में स्कूल प्रबंधन और संबंधित नेता की तरफ से स्पष्ट किया गया कि ऐसी कोई घटना नहीं हुई है।

स्कूल में जिस छात्र को शिक्षिका ने थप्पड़ जड़ा, वह 12वीं पढ़ता है। नेता बेटे के फोन करने पर स्कूल पहुंच गए। वहां सभी टीचर को इकट्ठा कर लिया गया। नेता ने बेटे को थप्पड़ मारने वाली शिक्षिका के रवैये पर सख्त नाराजगी जताई। उनका कहना था कि बड़े बच्चे को गलती पर भी थप्पड़ मारना कदापि उचित नहीं है। बताते हैैं कि स्कूल प्रबंधन ने नेता के गुस्से को किसी तरह शांत किया। बाद में इस बात की चर्चा खूब होने लगी। इस बारे में स्कूल प्रबंधन और नेता दोनों का कहना है कि ऐसा कुछ नहीं हुआ है। स्कूल के मालिक ने बताया कि नेता उनके यहां चाय पीने के लिए आए थे। कोई इसे अनर्गल उछाल रहा है।

 

Posted By: Abhishek Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस