बरेली, जेएनएन। देश की वीआइपी ट्रेनों में शुमार राजधानी एक्सप्रेस शनिवार को बरेली में बर्निग ट्रेन बनने से बच गई। घटना बिलपुर रेलवे स्टेशन के पास सुबह करीब पौने नौ बजे ब्रेक ब्लॉक होने से हुई। इससे गुवाहाटी एक्सप्रेस समेत कई ट्रेन प्रभावित हुईं।
डिब्रूगढ़ से चलकर नई दिल्ली जाने वाली राजधानी सुपरफास्ट एक्सप्रेस (ट्रेन संख्या 20503) लखनऊ जंक्शन से शनिवार सुबह करीब सवा छह बजे रवाना हुई। वहां से वाया बरेली जंक्शन नई दिल्ली जानी थी। करीब पौने नौ बजे टेन बिलपुर रेलवे क्रॉसिंग से गुजरी तो वहां तैनात गेटमैन राजेश ने एक कोच के पहियों में आग के साथ धुआं निकलता देखा। गेटमैन ने इसकी सूचना बिलपुर स्टेशन मास्टर मोहम्मद हनीफ खान को दी तो अफरा-तफरी मच गई। तुरंत कंट्रोल रूम और ट्रेन के लोको पायलट को जानकारी दी गई। तब लोको पायलट ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर आनन-फानन ट्रेन को आउटर सिग्नल के पास रोक दिया। अचानक ट्रेन आउटर पर रुकी तो मुसाफिरों में खलबली मच गई। लोको पायलट ने अन्य स्टाफ की मदद से बी-वन कोच के पहियों में लगी आग बुझाई। वहीं, मेंटीनेंस विभाग से आए रेलकर्मियों ने ट्रेन के इमरजेंसी ब्रेक की वजह से जाम हुए ब्रेक दुरुस्त किए। करीब एक घंटे बाद ट्रेन बरेली जंक्शन की ओर रवाना हुई।



हॉट एक्सेल नहीं ब्रेक ब्लॉक से उठा धुआं
इंजीनियरिंग विभाग की टीम ने राजधानी एक्सप्रेस के बी-वन कोच में लगी आग का कारण जानने के लिए जांच की। मालूम हुआ कि आग लगने की वजह हॉट एक्सेल नहीं, बल्कि ब्रेक ब्लॉक था। दरअसल, अधिकांश ट्रेनों में फाइबर ब्रेक ब्लॉक का उपयोग हो रहा है। जो जाम होने की वजह से गर्म हुआ और इसमें आग लगने के बाद धुआं उठने लगा। इसे ठीक कर दिया गया। हॉट एक्सेल होता तो ट्रेन से कोच ही अलग करना पड़ता।

ये ट्रेनें हुईं प्रभावित
घटना की वजह से कई ट्रेनें प्रभावित हुईं। इनमें गुवाहाटी एक्सप्रेस, मुगलसराय एक्सप्रेस, उपासना एक्सप्रेस व मालगाड़ी को कटरा समेत पीछे के अन्य स्टेशनों व आउटर पर यहां-वहां रोका गया। इससे मुसाफिरों को खासा परेशानी हुई।

सुबह ही मामले की रिपोर्ट मांगी। हॉट एक्सेल जैसी बात नहीं थी। दरअसल, फाइबर ब्रेक ब्लॉक जाम होने की वजह से धुआं उठा था। इसमें जांच होने जैसी कोई स्थिति नहीं है। - अश्विनी कुमार उपाध्याय, एडीआरएम, मुरादाबाद मंडल

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Dharmendra Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप