बरेली, जेएनएन। Dengue in Pilibhit : पीलीभीत के बीसलपुर में डेंगू का प्रकोप बेकाबू हो रहा है। कस्बे के मुहल्ला दुर्गा प्रसाद में लगातार नए मरीज निकल रहे हैं। ऐसे में मरीजों की संख्या लगभग एक दर्जन हो चुकी है। डेंगू पीड़ित दो महिलाओं व एक व्यापारी की मौत हो चुकी है लेकिन फिर भी स्वास्थ्य विभाग नहीं चेत रहा है।

इसी मुहल्ले में एक महिला और एक पुरुष में और डेंगू की पुष्टि हुई है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर डेंगू की जांच के लिए किट उपलब्ध नहीं है। दूसरी ओर नगर पालिका परिषद की अधिशासी अधिकारी वंदना शर्मा लंबे अवकाश पर हैं। ईओ का कार्यभार उपजिलाधिकारी के पास है। पालिका के ठेका सफाई कर्मचारी हड़ताल पर हैं। नियमित सफाई कर्मचारी मनमाने ढंग से कार्य कर रहे। ऐसे में मुहल्लों में न तो फागिंग हो रही और न ही कीटनाशक का छिड़काव कराया जा रहा है। लार्वा खोजने और नष्ट करने के लिए मलेरिया विभाग की टीमें भी नहीं नजर आती।

इसी कारण डेंगू के प्रकोप की रोकथाम के प्रभावी उपाय नहीं हो पा रहे हैं। मुहल्ला दुर्गा प्रसाद के नागरिकों का कहना है कि सफाई कार्य में घोर लापरवाही बरती जा रही है। अभी तक इस मुहल्ले में एक बार भी फागिंग नहीं कराई गई।नालियों में कीटनाशक का छिड़काव भी नहीं हुआ।

पिछले दिनों हुई बारिश का पानी कई स्थानों पर भरा है लेकिन उसमें एंटी लार्वा का छिड़काव फिर भी नहीं कराया जा रहा है। उधर, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सा अधीक्षक डा. ठाकुरदास का कहना है कि मलेरिया विभाग की टीम लगातार सक्रिय है। बुखार पीड़ित ऐसे लोगों के सैंपल लिए जा रहे हैं, जिनमें डेंगू की आशंका होती है। 

Edited By: Ravi Mishra