जागरण संवाददाता, शाहजहांपुर: एसडीओ से मारपीट के आरोपित भाजपा नेता विमल गुप्ता की गिरफ्तारी की मांग को लेकर कार्य बहिष्कार व प्रदर्शन करना विद्युत अभियंताओं को भारी पड़ गया है। मध्यांचल विद्युत वितरण निगम के प्रबंध निदेशक भवानी सिंह ने वादी उप खंड अधिकारी समेत छह अभियंताओं का तबादला कर दिया है। इससे गिरफ्तारी की मांग को लेकर किए जा रहे प्रदर्शन पर विराम लग गया है।

विद्युत वितरण प्रथम के 25 जृन को उपखंड अधिकारी अनिल कुमार रावत के साथ मारपीट हुई थी। उसी दिन उप खंड अधिकारी की ओर से भाजपा के गुरुग्राम मंडल उपाध्यक्ष विमल गुप्ता के खिलाफ मारपीट का मुकदमा दर्ज कराया था।

आरोपी भाजपा नेता की गिरफ्तारी न होने पर विद्यत अभियंता संघ के आह्वान पर 26 जून से दो घंटे का कार्य बहिष्कार शुरू किया था। इसके बावजूद आरोपी की गिरफ्तारी न होने पर 29 जून से पूण कार्य बहिष्कार शुरू कर दिया गया। शाहजहांपुर, बरेली, बदायूं तथा पीलीभीत में भी अभिंयंताआं ने काली पट्टी बांधकर प्रदर्शन किया था।

मध्यांचल विद्युत वितरण निगम के प्रबंधक निदेशक भवानी सिंह ने स्थानांतरण सत्र के अंतिम दिन अनुसूचित जाति जनजाति एक्ट आदि धाराओं में एफआइआर दर्ज कराने वाले उपखंड अधिकारी अनिल कुमार रावत को बरेली जनपद के राजेंद्र नगर उपखंड कार्यालय के लिए तबादला कर दिया है।

इसी तरह शहरी क्षेत्र के अधिशासी अभियंता प्रशांत गुप्ता को विद्युत वितरण खंड शाहजहांपुर द्वितीय से पूरनपुर विद्युत वितरण खंड भेजा गया है। पूरनपुर के अधिशासी अभियंता अरविद कुमार शाहजहांपुर में विद्युत वितरण खंड द्वितीय की कमान संभालेंगे। हरदोई निवासी उप खंड अधिकारी आशीष राहुल का विद्युत वितरण खंड जलालाबाद से मुख्य अभियंता वितरण लेसा ट्रांस गोमती लखनऊ भेजा गया है।

लखनऊ निवासी सुशील कुमार प्रजापति सहायक अभियंता मीटर खंड का मुख्य अभियता वितरण लखनऊ कार्यालय स्थानातरणक किया गया है। सीतापुर निवासी व विद्युत वितरण खंड प्रथम के उपखंड अधिकारी निवासी अवनीश त्रिवेदी को मुख्य अभियांता वितरण क अयोध्या भेजा गया है।

Edited By: Aqib Khan