बरेली, जेएनएन।शाही थाना क्षेत्र के अंर्तगत रहने वाले एक ग्रामीण की मौत हो गई। उसका शव यूके लिप्टस के पेड़ से अंगौछे के जरिए लटकता मिला। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची मृतक की पत्नी ने रंजिशन हत्या करने का आरोप लगाया है। मृतक की पत्नी का कहना है कि गांव के ही तीन लोग उसे घर से बुलाकर अपने साथ लिवा ले गए थे। इधर मामले की जानकारी पाकर पहुंची पुलिस युवक के आत्महत्या किए जाने की आशंका जता रही है। मामले में पुलिस ने अपनी तफ्तीश शुरू कर दी है।

शाही थानाक्षेत्र के बसई गांव में रहने वाला प्रेम पाल खेती बाड़ी कर अपना और अपने परिवार का पेट पालता था। परिजनों के अनुसार प्रेमापाल शनिवार की शाम को अपने घर पर ही था। तभी गांव में रहने वाले तीन लोग उसके यहां आए और करीब साढे आठ बजे उसे अपने साथ लिवा ले गए। जिसके बाद से प्रेम पाल घर नहीं लौटा।

गांव के बाहर जंगल में मिला शव

रविवार को सुबह जब गांव के लोग घूमने निकले तो उन्हें गांव के बाहर जंगल में यूके लिप्टस के पेड़ से अंगौछा के जरिए एक युवक का शव लटका दिखाई दिया। ये देख ग्रामीणों ने तत्काल इसकी जानकारी परिजनों को दी। मौके पर पहुंची रूबी ने मृतक की शिनाख्त प्रेम पाल के रूप में की।

रंजिशन हत्या का लगाया आरोप

रुबी का आरोप है गांव के ही कुछ लोगों ने प्रेम पाल की हत्या कर उसका शव पेड़ से लटका दिया है। हालांकि रंजिश की वजह अभी पता नहीं चल पाई है। ग्रामीणों के मुताबिक मृतक के तीन छोटे छोटे बच्चे है।

फील्ड यूनिट ने एकत्र किए साक्ष्य

घटना की जानकारी के बाद मौके पर पुलिस ने फोरेंसिक फील्ड यूनिट को भी बुलवा लिया। फील्ड यूनिट ने मौके से कई साक्ष्य एकत्रित किए है। हालांकि मामले में एसओ शाही अरविंद कुमार सिंह चौहान आत्महत्या करने की आशंका जता रहे है।

शव की स्थिति देख हैरान है लोग

घटना स्थल पर पेड से लटके प्रेम पाल के पैर जमीन पर है। लोगों का कहना है कि आमतौर पर फांसी लगाने वाले व्यक्ति की जुबान भी बाहर आ जाती है। लेकिन ऐसे कोई भी लक्षण शव पर नहीं दिख रहे है। हालांकि पोस्टमार्टम के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो सकेगी।

 

Posted By: Ravi Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस