बरेली, जेएनएन। Cheating in name of KBC lottery : यदि कोई आपसे लाटरी की बात कह रहा है तो समझ जाइए आप ठगी का शिकार होने वाले हैं। केबीसी में लाखों की लाटरी के नाम पर बड़े पैमाने पर ठगी का खेल चल रहा है। गुरुवार को सुभाषनगर का रहने वाले युवक इसी झांसे में आकर 14 हजार रुपये गंवा बैठा। पीड़ित ने सुभाषनगर पुलिस को मामले में तहरीर दी है। सुभाषनगर के शांति विहार निवासी चंद्र प्रकाश मिश्र सोया फैक्ट्री में पिकअप चालक हैं।

उनके बेटे कुश मिश्र के मुताबिक, गुरुवार को उनके पास एक अज्ञात व्यक्ति का फोन आया। फोन करने वाले ने खुद को केबीसी में कर्मचारी बताया और 25 लाख रुपये की लाटरी लगने की जानकारी दी। धनराशि पाने के लिए सिक्योरिटी के तहत कुछ रुपये खाते में भेजने की बात कही। कुश जालसाज के झांसे में आ गया। एक-एक कर कई बार में वह जालसाज के खाते में 14 हजार रुपये भेज बैठा। इसके बाद भी जब जालसाज और रुपये मांगने लगा तो उसी ठगी का अहसास हुआ। वह थाने पहुंचा। इंस्पेक्टर सुभाषनगर सतेंद्र पाल सिंह ने बताया कि तहरीर मिली है, जांच कराई जा रही है।

सहुआ गांव में गोकुशी के अवशेष मिलने के मामले में रिपोर्ट : फरीदापुर चौधरी के बाद सहुगआ गांव में गोकुशी के अवशेष मिलने पर गुरुवार को चौथे दिन इज्जतनगर पुलिस ने मामले में रिपोर्ट दर्ज की। आइजी तक मामला पहुंचने के बाद इज्जतनगर पुलिस ने योगी सेना के जिला मंत्री हिमांशु पटेल की तहरीर पर अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की।बता दें कि चार दिन पहले इज्जतनगर के सहुआ गांव में गोकुशी के अवशेष मिले थे। इस पर योगी सेना के पदाधिकारियों ने सवाल खड़े किये थे। आरोप था कि इससे पहले फरीदापुर चौधरी में किला नदी के पास बड़े पैमाने पर गोकुशी का मामला सामने आया।

जांच में गोवंशीय अवशेष होने की पुष्टि हुई थी। आला-अफसरों तक शिकायत हुई। शासन ने भी मामले का संज्ञान लिया। कुछ लोगों पर कार्रवाई दिखाकर पुलिस शांत बैठ गई। नतीजा यह हुआ कि गोकुशी नहीं रुकी। सहुआ में गोकुशी का इसका प्रमाण भी बताया। एडीजी, आइजी के साथ एसएसपी बरेली को योगी सेना ने वीडियो ट्वीट किया। इज्ज्तनगर इंस्पेक्टर संजय कुमार ने बताया कि मामले में रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। गो-तस्करों के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जा रही है।

Edited By: Samanvay Pandey