बरेली, जेएनएन। Pilibhit Flood News : पीलीभीत में वे लोग दूध बेचने के लिए गए थे लेकिन अचानक शारदा नदी में आई बाढ़ में फंस गए। ऐसे में जान बचाने के लिए पेड़ पर चढ़ गए। पूरी रात पेड़ पर बिता दी। दूर दूर तक सिर्फ पानी नजर आने, मदद का कोई जरिया नहीं दिखने पर उन लोगों ने मोबाइल से वीडियो बनाया और फिर उसे प्रशासनिक अधिकारियों को पहुंचाकर खुद के बाढ़ में फंसे होने की जानकारी दी। बाढ़ में फंसे इन लोगों का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो रहा है।

हजारा थाना क्षेत्र के गांव नवरसा निवासी जलालुद्दीन, रमजानी, हसन, मोहित, अरशद आदि दूध बेचने का व्यवसाय करते हैं। सोमवार को ये सभी दूधिये कंबोजनगर पुलिस चौकी क्षेत्र के गांव टिल्ला नंबर चार में दूध बेचने गए थे। वापसी के दौरान अचानक शारदा नदी का जलस्तर तेजी से बढ़ने लगा। यह देख ये दूधिये घबरा गए। 

नदी में बाढ़ आ जाने के कारण इन लोगों को निकलने का कोई रास्ता नहीं मिला। ऐसे में ये सभी लोग पेड़ पर चढ़ गए।पूरी रात भूखे प्यासे रहकर गुजारी। मंगलवार को भी दूर दूर तक उन्हें सिर्फ पानी नजर आया। कहीं कोई मदद का सहारा  न देखकर इन लोगों ने मोबाइल से अपना वीडियो बनाया। इस वीडियो को जिले के प्रशासनिक अधिकारियों को भेजकर खुद के फंसे होने की जानकारी दी। 

यह वीडियो इंटरनेट मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। उधर, जिलाधिकारी पुलकित खरे ने बताया कि कंबोजनगर क्षेत्र मेंउन्हें सुरक्षित निकालने के लिए एसएसबी व एनडीआरएफ के जवानों के माध्यम से रेस्क्यू करके सुरक्षित लाने की तैयारी की जा रही है। कुछ लोगों के बाढ़ में फंसे होने की जानकारी मिली है। 

Edited By: Ravi Mishra