बरेली, जेएनएन : बिथरी चैनपुर विधायक राजेश मिश्र उर्फ पप्पू भरतौल की बेटी साक्षी मिश्र के अनुसूचित जाति के युवक से शादी रचाने के हाई प्रोफाइल मामले में चैनलों पर बहस जारी है। नजरें अब हाईकोर्ट में होने वाली सुनवाई पर लग गई हैं। यहां साक्षी की पेशी होना है। उसने अपने विधायक पिता से जान का खतरा बताया है।

दो वीडियो वायरल करके साक्षी और उसके पति अजितेश ने आरोप लगाया है कि उन्हें धमकाया जा रहा है। उनकी जान को खतरा बना हुआ है। सुरक्षा के लिए दोनों हाईकोर्ट भी गए हैं। वहां 15 जुलाई की तारीख लगे होने की जानकारी है। उससे पहले ही सुरक्षा मामला पुलिस और प्रशासनिक अमले में खलबली का सबब बन गया है। एडीजी और कमिश्नर समेत सभी अफसर कह चुके हैं कि साक्षी और अजितेश को सुरक्षा दिलाई जाएगी लेकिन दोनों ही स्थानीय अफसरों के संपर्क में नहीं हैं।

अजितेश नायक पर उसके पड़ोसियों ने लगाए आरोप

विधायक की बेटी साक्षी के पति अजितेश का परिवार सौ फुटा रोड स्थित वीर सावरकरनगर कॉलोनी में रहता है। अजितेश पर पड़ोसियों ने कई तरह के आरोप लगाए हैं। वीरसावरकर नगर कल्याण समिति के अध्यक्ष इंजीनियर एके सिंह ने बताया कि हम तो इसका नाम भी नहीं जानते थे। कॉलोनी में गाड़ियों पर अभि ठाकुर लिखता था। उन्होंने अजितेश के पिता हरीश से अपील की, अगर उन्हें पूरनपुर से विधायकी लड़नी है तो जरूर लड़े, लेकिन ऐसी राजनीति नहीं करें।

अजितेश के परिजन अपने वीर सावरकर नगर स्थित आवास में नहीं हैं। पड़ोसियों ने बताया कि अजितेश के घर पर चार-पांच जुलाई से ताला लगा है। घर पर अजितेश के पिता के अलावा उनके बड़े भाई अभिषेक भी पत्नी के साथ रहते थे। इसके अलावा एक बहन, दादी-बाबा रहते थे। सब एक साथ कहीं चले गए। घर पर सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस पिकेट लगा दी गई है। 

कॉलोनी के ही दिनेश गिरी ने बताया कि विधायक पहले ही बोल चुके हैं। बेटी बालिग है। अपने निर्णय ले सकती है। फिर ऐसी बातें उन्हें बदनाम करने की साजिश है। पड़ोसियों ने कहा कि अधिक जानकारी के लिए थाना इज्जतनगर और प्रेमनगर से जानकारी ली जा सकती है। अब माना जा रहा है कि 15 जुलाई को हाईकोर्ट में पेश होने के बाद ही साक्षी और अजितेश बरेली लौट सकते हैं। पुलिस पूरे घटनाक्रम पर नजर रख रही है। एसएसपी का कहना है कि दोनों बरेली आते हैं तो उनको सुरक्षा दिलाई जाएगी।

पूर्व ब्लॉक प्रमुख प्रत्याशी गौरव अरमान गिरफ्तार

कभी बिथरी विधायक के खास कहे जाने वाले पूर्व ब्लाक प्रमुख प्रत्याशी गौरव अरमान को पुलिस ने नाटकीय ढंग से शनिवार को पकड़ लिया। गौरव के खिलाफ बीते साल सावन में बवाल होने पर मुकदमा दर्ज किया गया था। पुलिस ने इसी मुकदमे में गिरफ्तारी की है।

बिथरी पुलिस ने शनिवार शाम को गौरव अरमान को पकड़ लिया। पकड़कर उसे थाने ले जाया गया। गौरव को देर रात तक यह पता नहीं था कि उन्हें किस मामले में पकड़ा गया है। गौरव के पकड़े जाने की सूचना उनके तमाम जानने वालों तक पहुंच गई। लोग थाने आने लगे तो उन्हें वहां से हटाकर दूसरे थाने में भिजवा दिया गया। एकाएक गौरव अरमान की गिरफ्तारी से बिथरी के राजनीतिज्ञों में भी खलबली मच गई है। चर्चा यह है कि गौरव की अजितेश से गहरी दोस्ती थी। गौरव अरमान की एकाएक हुई गिरफ्तारी को इसी से जोड़कर देखा जा रहा है।

गौरव के खिलाफ बिथरी थाने में मुकदमा दर्ज है। इसी मामले में गिरफ्तारी की गई है। रविवार को उसे जेल भेजा जाएगा। - कुलदीप कुमार, सीओ थर्ड

 

Posted By: Abhishek Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप