बरेली, जेएनएन। Omkar Murder Case of Bareilly : ओमकार हत्याकांड में नफरत की इंतहा सामने आई है। हत्यारों ने सिर्फ ओमकार का गला ही नहीं काटा, उससे पहले उसके पूरे शरीर को धारदार हथियार से गोदा था। सिर, हाथ, पैर, पीठ व कलाई पर धारदार हथियार रखकर चलाया गया। कलाई काटी, सिर पर भी वार किया गया। पूरे शरीर में ओंमकार धारदार हथियार से हमले के 12 निशान मिले हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट की कहानी के मुताबिक, मरने के बाद उसका गला काट लिया गया। बरहाल, मामले में एक संदिग्ध को हिरासत में लेकर नवाबगंज पुलिस पूछताछ में जुटी है। मुकदमे में नामजद आरोपित फरार हैं।

ग्राम ढकिया खैरुद्दीन निवासी ओमकार भोजीपुरा के ग्राम दबौरा में एक लकड़ी की टाल पर मजदूरी करते थे। शुक्रवार को देर शाम तक जब वह वापस घर नहीं लौटे तो स्वजन ने उनकी खोजबीन शुरु की। काफी तलाशने के बाद भी उनका कोई पता नहीं मिला। शनिवार को एक ग्रामीण ने गांव के ही नन्हेलाल के गन्ने के खेत में उनका सिर कटा शव पड़ा देखा। धड़ से कुछ दूरी पर गन्ने के खेत के पास झाडिय़ों में खून से सना सिर पड़ा हुआ था। मृतक ओमकार की पत्नी की तहरीर पर गांव के ही कन्हई उसके बेटे अमित, अमित के दोस्त मुकुल और अहिबरन के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज की गई। अवैध संबंधों में ही ओमकार की हत्या की कहानी की पुष्टि हुई है।

हत्यारोपितों के साथ महिला भी फरारः हत्यारोपितों के फरार होने पर नवाबगंज पुलिस महिला के घर पहुंची जिससे ओमकार के अवैध संबंध होने की बात सामने आ रही थी। महिला फरार मिली, उसके घर पर ताला बंद था। इधर, मुकदमे में नाजमद आरोपित भी घरों में ताला बंद कर फरार हैं। हत्यारोपितों के बारे में जानकारी देने से गांव के लोग भी बच रहे हैं। बेहद ही निर्मम तरीके से ओमकार की हत्या की पूरे गांव में चर्चा है। एसपी देहात राजकुमार अग्रवाल ने बताया कि एक संदिग्ध को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। मुकदमे में नामजद सभी आरोपित फरार हैं। जल्द ही उनकी गिरफ्तारी की जाएगी।

Edited By: Samanvay Pandey