बरेली, जेएनएन। Bareilly Water Conservation News : जल है तो कल है। राजेंद्र नगर की नेहरू पार्क कालोनी के बाशिंदों ने इस सच को जान लिया है। इसी कारण उन्होंने अगली पीढ़ी को जल उपलब्ध कराने के इंतजाम शुरू भी कर दिए हैं। जमीन से पानी लेते जरूर हैं, बदले में धरा की प्यास बुझाने का इंतजाम भी कर लिया है। इतना ही नहीं यहां के लोग दूसरों के लिए नजीर भी पेश कर रहे हैं। जल्द पार्क में बड़ा रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम भी लगाने की तैयारी कालोनी में की जा रही है।

जलभराव नहीं होता, जमीन में जाता पानी

कालोनी में करीब 35 आवास बने है। इनके बीच में टैगोर पार्क है। यहां की व्यवस्थाएं टैगोर पार्क रेजीडेंट वेलफेयर एसोसिएशन देखती है। कालोनी का एक ओर ढाल होने के कारण कुछ लोगों के घरों के आगे बारिश में पानी भर जाया करता था। पिछले दो साल से सड़क पर पानी देर तक इकट्ठा नहीं रहता। शैंकी दुग्गल और अलका अग्रवाल ने अपने घरों के आगे बारिश के पानी को जमीन पर भेजने के इंतजाम किए हैं। वहां करीब 30 फीसद बोरिंग कर सोक पिट बना रखा है। जाली से छनकर बरसात का सारा पानी जमीन में पहुंच जाता है। बताते हैं कि इसमें मात्र दस हजार रुपये ही खर्च आए, लेकिन हर बार की दिक्कत से निजात मिल गई।

 कालोनी में बनेगा बड़ा रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम 

टैगोर पार्क का एक हिस्सा काफी नीचा है। सोसायटी ने इस हिस्से पर बड़ा रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाने की तैयारी की है। यह कालोनी के सभी लोगों के प्रयास से होगा। इसके लिए गुरुवार को कालोनी में बैठक होनी है, जिसमें एक्सपर्ट पानी को बचाने के तरीकों की जानकारी देंगे। पार्क में बनाया जाने वाला रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम पूरी कालोनी से बारिश के पानी को जमीन तक पहुंचा देगा। ऐसी व्यवस्था की जाएगी जिससे घरों से बारिश का पानी इस प्लांट तक आ जाएगा। यहां बन रहे पांच मकानों में भी रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाया जा रहा है।

आरओ के बेकार पानी का कर रहे इस्तेमाल 

कालोनी में रहने वाले अधिकतर सभी घरों में आरओ सिस्टम लगा हुआ है। इसमें से साफ पानी के अतिरिक्त अशुद्ध पानी भी निकलता है। कालोनी में ही रहने वाली मालती देवी उस अशुद्ध पानी से घर के अन्य काम करती हैं। आरओ से निकलने वाले अशुद्ध पानी को एक ड्रम में इकट्ठा कर लेती हैं। इसके बाद उसे क्यारियों, गमलों और आंगन की धुलाई में इस्तेमाल करती हैं। उनसे प्रेरित होकर कालोनी की चार अन्य महिलाएं भी यह तरीका इस्तेमाल कर रही हैं।

कालोनी के लोग जल संचय के लिए हमेशा आगे रहते हैं। टैगाेर पार्क में शुक्रवार से रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाना शुरू हो जाएगा। हम रोटरी क्लब के माध्यम से भी रेजीडेंट सोसायटियों में लोगों को पानी बचाने के प्रति जागरूक कर रहे हैं। इसके लिए मुहिम चला रखी है। पीपी सिंह, अध्यक्ष, टैगोर पार्क रेजीडेंट वेलफेयर एसोसिएशन व पूर्व गवर्नर रोटरी

पहले घर के आगे बारिश का पानी भर जाता था। अब जमीन पर बोरिंग करवा दिया है। इससे सारा पानी कुछ ही देर में जमीन में पहुंच जाता है। घर से भी बारिश का पानी वहां जाता है। एके अग्रवाल

लोगों के सहयोग से जल्द कालोनी के पार्क में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लग रहा है। इसके साथ ही यहां बनने वाले सभी नए मकानों में भी यह सिस्टम लगाया जा रहा है। नरेंद्र खटवानी, सचिव, एसोसिएशन

 घर के बाहर कुछ हिस्सा अभी तक कच्चा छोड़ रखा है। यहां बारिश के पानी को जमीन के अंदर पहुंचाने के लिए प्लांट लगाना है। जल्द प्लांट लगा लिया जाएगा। पवन अग्रवाल

कालोनी में कुछ दिन पहले ही बैठक हुई थी, उसमें अधिकतर लोगों ने घरों में सिस्टम लगाने की सहमति दी है। हमारे यहां भी प्लांट लगाया जाना है। अतुल खंडेलवाल

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021