बरेली, जागरण संवाददाता। Bareilly Cracker Market News : आबादी के बीच पटाखा मार्केट (Cracker Market) सजाने के मामले में व्यापारियों को हाईकोर्ट से राहत नहीं मिली है। हाईकोर्ट (High Court) ने मामले में आयुक्त को तीस सितंबर तक निर्णय लेने को कहा है। वहां चलने वाली दुकानों के लाइसेंस डीएम निरस्त कर चुके हैं।

शहर के सौ फुटा रोड और मिनी बाइपास मार्ग पर पिछले कई वर्षों से पटाखों का थोक का बाजार लगता है। वहां करीब दो दर्जन दुकानें हैं जो आतिशबाजी का सामान बेचती हैं। इन व्यापारियों को हर तीन साल में पटाखा बेचने का लाइसेंस प्रशासन से नवीनीकरण कराना होता है।

पूर्व के सालों में कुछ दुकानदारों के लाइसेंस की अवधि समाप्त हो गई थी। उनके नवीनीकरण नहीं किए गए थे। कोरोना संक्रमण के कारण दो साल इन दुकानों पर आतिशबाजी बेचने की अनुमति अधिकारियों ने दे दी। पिछले साल सीएफओ ने अपनी रिपोर्ट में आबादी के बीच दुकानें होने के कारण नवीनीकरण नहीं किए जाने की संस्तुति की थी।

इसके बाद डीएम ने सभी के लाइसेंस निरस्त कर दिए। इस आदेश के विरोध में कुछ कारोबारियों ने हाईकोर्ट की शरण ली। हाईकोर्ट से भी उन्हें राहत नहीं मिली है। हाईकोर्ट ने मामले में कमिश्नर को फैसला लेने को कहा है। मामले में तीस सितंबर तक कमिश्नर फैसला लेंगी। डीएम शिवाकांत द्विवेदी का कहना है कि वह पटाखा कारोबारियों के लाइसेंस निरस्त कर चुके हैं।

Edited By: Ravi Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट