बरेली, जेएनएन। बरेली विकास प्राधिकरण की टीम ने शुक्रवार को शहर के चार स्थानों पर बड़ी कार्रवाई की। बिना नक्शा पास कराए दो मैरिज लॉन लावण्या व मैफेयर और 21-डाउन टाउन बार को सील कर दिया गया। जबकि एक बड़े व्यापारी की ओर से बनवाई जा रही कालोनी का काम रूकवा दिया गया। डोहरा रोड पर स्थित एक लॉन को सील करने के दौरान टीम का विरोध भी किया गया। इसके बावजूद टीम ने कार्रवाई पूरी की।

बीडीए उपाध्यक्ष जोगिंदर सिंह ने बताया कि कई दिन से इन लॉन और बार की शिकायत आ रही थी। शुक्रवार को अधीक्षण अभियंता राजीव दीक्षित प्रवर्तन दल लेकर सबसे पहले डोहरा रोड स्थित लावण्या बैंक्वेट हॉल पहुंचे। यहां परिसर में हुए निर्माण की अनुमति प्राधिकरण से नहीं थी। इसके चलते लावण्या बैंक्वेट हॉल सील कर दिया गया। इसी रोड पर मैफेयर लॉन में हुआ निर्माण भी नक्शे के मानक के अनुरूप नहीं था। इस पर मैफेयर लॉन को भी सील कर दिया गया। इसके बाद टीम स्टेडियम रोड स्थित 21-डाउन टाउन बार पहुंची। यहां भी आवासीय नक्शे के इतर व्यावसायिक गतिविधियां होती पाई गईं। इस पर बार को सील कर दिया गया। इसी तरह मिनी बाइपास स्थित सैदपुर हॉकिन्स कालोनी में मधुर अग्रवाल व विष्णु अग्रवाल द्वारा कराए जा रहे निर्माण को देखा गया । यहां लगभग चार हजार वर्ग मीटर कालोनी में सड़क बनाने के लिए मिट्टी व पत्थर आदि डाले गए थे। यह निर्माण बिना नक्शा पास कराए ही हो रहा था। इस पर निर्माण कार्य बंद कराकर उसेे भी सील कर दिया गया।

पहले भी होता रहा विरोध
बीडीए की टीम ने जिन लॉन और बार को सील किया। इनके निर्माण को लेकर पहले भी कई बार विरोध हो चुका था लेकिन शिकायतों के बाद भी अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई थी। बीडीए वीसी जोगिंदर सिंह को जब इनकी शिकायतें मिली तो उन्होंने इनकी फाइल दिखवाई। जिसमें शिकायत सही पाई गई। इसके बाद शुक्रवार को यह कार्रवाई की गई।

बीडीए से मांगा समय
कार्रवाई के बाद शुक्रवार को ही चारों व्यापारी बीडीए पहुंचे। उन्होंने डेवलेपमेंट चार्ज और नक्शा पास कराने के लिए छह महीने का समय मांगा है। मानक के अनुसार चारों लोगों का करीब तीन करोड़ रुपये डेवलेपमेंट चार्ज बनता है। इसमें से 15 लाख रुपये डाउन टाउन और मैफेयर वालों ने जमा भी करा दिए हैं। इसके अलावा चारों व्यापारियों ने छह महीने का समय मांगते हुए शपथ पत्र भी दिया है।

क्या कहना है बीडीए वीसी का

बीडीए वीसी जोगिंदर सिंह का कहना है कि कई शिकायतें मिलने के बाद कार्रवाई की गई है। दो मैरिज लॉन, एक बार और एक कालोनी सील की गई है। इनमें से कुछ लोगों ने शपथ पत्र देकर छह माह का समय मांगा है। कुछ लोगों ने डेवलेपमेंट चार्ज भी जमा किया है। इसके चलते उनकी सील खोल दी जाएगी।
 

Edited By: Sant Shukla