बरेली, जागरण संवाददाता। Bareilly Crime News : यूपी के बरेली में शुक्रवार को भाई की कलाई सदा के लिए सूनी रह गई।राखी बांधने से पहले इकलौती बहन ने अपनी जान दे दी।जिसके बाद घर में मातम छाया हुआ है। घर से बाहर आने वाली परिजनों की चीखें बेटी को सदा काे खोने का दर्द बयां कर रहीं है। रक्षाबंधन के पर्व पर दिल को कचोटने वाला यह दृश्य बरेली के प्रेमनगर क्षेत्र का है। जहां रहने वाली एक विवाहिता दहेज की बलिवेदी पर चढ़ गई।

जिसने दहेज उत्पीड़न से तंग आकर खुदकुशी कर ली।महज नौ माह पहले संभल के सिरसी गांव से दुल्हन बनकर बरेली आई सुरभि देवल ने आत्मघाती कदम उठा लिया।उसने रक्षाबंधन के पर्व से ठीक पहले आत्महत्या कर ली। परिजनों का आरोप है कि आरोपित पति व ससुराली जन उससे 10 लाख रुपए दहेज के रूप में और लाने की मांग कर रहे थे।

जिससे वह तंग आ चुकी थी।स्वजन ने पति व ससुरालियों पर आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया है। प्रेमनगर पुलिस ने बताया कि सुरभि देवल मूल रूप से संभल के सिरसी की रहने वाली थी।नौ माह पहले प्रेमनगर के कोहड़ापीर चौकी क्षेत्र स्थित बजरिया पूरनमल के हरपाल देवल से उनकी शादी हुई थी।

सुरभि की मां सोनी देवल ने बताया कि शादी के कुछ समय बाद ही दामाद व ससुराली बेटी को दहेज के लिए परेशान करने लगे।उत्पीड़न इस कदर बढ़ गया कि बेटी घर आ गई और खुदकुशी का प्रयास किया।जैसे तैसे उसे बचाया गया।फिर ससुरालियों से बैठकर समझौता हुआ।उसके बाद बेटी वापस की ससुराल चली गई।

दो माह बीते भी नहीं थे कि ससुरालियों ने फिर से उत्पीड़न शुरू कर दिया। इसके बाद बेटी हार मान गयी। सुरभि की मां ने आरोपित दामाद के साथ-साथ रेशमवती देवल, ससुर, ननद वैष्णो देवी, सोनम देओल, नीलम देवल, वैशाली देवर, देवर उज्जवल देवल पर आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया है।

प्रेमनगर पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। प्रेमनगर थाने के कार्यवाहक प्रभारी वीरेंद्र सिंह ने बताया कि तहरीर मिली है। पोस्टमार्टम के साथ आगे की कार्रवाई की जा रही है।

 

Edited By: Ravi Mishra