बरेली, जेनएन। Badaun Govansh Video Viral Case : बदायूं में चल रहे गोवंश पकड़ो अभियान के बीच बिनावर क्षेत्र के ददमई गांव में छह गोवंशीय पशुओं की मौत से खलबली मच गई है। गांव में बीते रविवार को चलाए गए अभियान में ग्रामीणों के सहयोग से 100 गोवंशीय पशु पकड़े गए थे। उन्हें रफियाबाद गोशाला ले जाया गया तो वहां 10 गोवंशीय की ही जगह थी, अन्य 90 गोवंश को फिर खुले में छोड़ दिया गया। गांव में छह गोवंशीय पशुओं की मौत का वीडियो वायरल हुआ था। मौके पर पहुंची टीम को चार गोवंशीय पशु मृत मिले। पशु चिकित्साधिकारी ने दावा किया कि इनमें दो की मौत दो से तीन दिन पहले, जबकि दो की छह से सात दिन पहले मौत हुई है।

पशु चिकित्साधिकारी बाेले- दाे से तीन दिन पहले हुई गायाें की मौत  

पशु चिकित्साधिकारी के आह्वान पर प्रधान और ग्रामीणों ने गांव के आसपास के गोवंशीय पशुओं को पकड़ा था। गांव के बाहर मृत गोवंशीय पशु मिलने और गायों की पिटाई करते हुए वीडियो वायरल होने के बाद रविवार को एसडीएम सदर लाल बहादुर, सीओ सिटी चंद्रपाल सिंह, पशु चिकित्साधिकारी डा.संजीव भूरियार भी गांव पहुंचे थे। गोवंशीय कैसे मरे इसकी पड़ताल की गई तो पशु चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि दो गाय की मौत दो से तीन दिन पहले जबकि दो अन्य की मौत छह से सात दिन पहले हुई है।

पिटाई से गाेवंश की माैत हाेने से किया इन्कार, डीएम तक पहुंंचा मामला

पिटाई से गाेवंश की मौत से इन्कार किया। मामला उच्चाधिकारियों तक पहुंच गया है। जिलाधिकारी दीपा रंजन और एसएसपी संकल्प शर्मा का कहना है कि अभी मामले की जांच कराई जा रही है। प्रथम दृष्टया पशु चिकित्सा अधिकारी की जांच को आधार मानकर ही मामले को रफा-दफा करने की कोशिश की जा रही है। एसएसपी ने बताया कि फिलहाल, मामले की जांच कराई जा रही है जो भी सच्चाई निकलकर सामने आएगी उसके आधार पर आगे की कार्रवाई होगी। 

Edited By: Ravi Mishra