बरेली, जागरण संवाददाता। दरगाह आला हजरत स्थित मरकजी दारुल इफ्ता की रुयते हिलाल कमेटी ने ईद उल अजहा (बकरीद) का एलान कर दिया है। रविवार को इलाहाबाद से चांद दिखाई देने की पुष्टि होने के बाद यह एलान किया गया। अब बकरीद 10 जुुलाई को मनाई जाएगी।

काजी-ए-हिन्दुस्तान मुफ्ती मोहम्मद असजद रजा खां कादरी (असजद मियां) की ओर से मरकजी दारुल इफ्ता के मुफ्ती अब्दुर्रहीम नश्तर फारूकी ने बताया कि बीते दिन आसमान साफ न होने के कारण बरेली और आसपास में कहीं चांद नजर नहीं आया था। जमात रजा के प्रवक्ता समरान खान ने बताया आज चांद दिखाई देने की पुष्टि होने के बाद ईद-उल-अजहा का त्योहार 10 जुलाई को मनाए जाने का एलान किया गया।

बकरीद पर कानून व्‍यवस्‍था व साफ-सफाई को लेकर कल डीएम को सौंपा जाएगा ज्ञापन: दरगाह आला हजरत के 105 साल पुराने संगठन जमात रजा-ए-मुस्तफा की ओर से जिलाधिकारी को ईद-उल-अजहा के मौके पर साफ सफाई और कानून व्यवस्था को लेकर कल यानी सोमवार को कलक्‍ट्रेट में ज्ञापन दिया जाएगा। यह जानकारी संगठन के प्रवक्‍ता समरान खान ने दी। 

Edited By: Vivek Bajpai