बरेली, जेएनएन। Bareilly Crime News : विवाह के डेढ़ वर्ष ही हुए थे। घर में खुशियों का माहौल था। अचानक से विवाहिता ने ससुरालियों के सामने बंटवारे की शर्त रख दी। आरोप है कि ससुरालियों के इन्कार पर मायके वालों को बुलाकर महिला ने मारपीट की। इज्जतनगर पुलिस ने मामले में विवाहिता समेत चार आरोपितों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। इज्जतनगर के कलारी गांव की रहने वाली मोहनदेई ने का योगेश कुमार इकलौता बेटा है। 20 फरवरी 2021 को उन्होंने पीलीभीत के जहानाबाद स्थित सिमरिया नाद निवासी पीतमराय की बेटी आरती से बेटे की शादी की।

आरोप है कि विवाह के बाद से ही आरती ने अलग जमीन व घर की मांग करने लगी। घर में कलह शुरू कर दी। ससुरालियों ने आरती के घर पर उनके पिता से मामले की शिकायत की लेकिन, कोई हल नहीं निकला। आरती बंटवारे की जिद पर अड़ी रही। इन्कार करने पर 21 नवंबर को आरती ने मायके पक्ष के लोगों को बुला लिया। पीतमराय और उनके बेटे विनोद कुमार और उनके साथी दाताराम ने मारपीट शुरू कर दी। आरोप है कि इसी दौरान पीतमराय ने तमंचे की बट मारकर पीड़िता को घायल कर दिया। आस-पास के लोगों के इकट्टा होने पर आरोपित जान से मारने की धमकी देते हुए फरार हो गए। इज्जतनगर इंस्पेक्टर संजय कुमार ने बताया कि मामले में रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

बहन से जमीन के विवाद में मौसी ने भांजे पर लगाया छेड़खानी का आरोप : बहन से जमीनी विवाद छेड़खानी तक आ पहुंचा। मौसी ने भांजे पर ही छेड़खानी का आरोप लगाकर छेड़छाड़ समेत गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज करा दी। सुभाषनगर निवासी एक महिला पति संग मायके में ही रहती हैं। आरोप है कि उनकी मां की मौत के बाद बहन-बहनोई और भांजा उनपर घर खाली करने का दबाव बनाने लगे। 23 नवंबर की दोपहर करीब तीन बजे भांजे राहुल ने फोन किया और बातचीत के लिए घर बुलाया। महिला के मुताबिक, घर पहुंचने पर सिर्फ राहुल वहां मौजूद मिला।

अकेला पाकर राहुल ने छेड़छाड़ शुरू कर दी। विरोध किया तो आरोपित ने गला दबाकर मारने की कोशिश की। बचाव के लिए शोर मचाने पर आस-पास के लोग इकट्ठा हो गए। जैसे-तैसे महिला ने भागकर जान बचाई। पति संग वह सुभाषनगर थाने पहुंची। उनकी तहरीर पर सुभाषनगर पुलिस ने आरोपित के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Edited By: Samanvay Pandey