बरेली, जेएनएन। Fraud in Bareilly : प्लाट दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। आरोप है कि आरोपित ने प्लाट दिलाने के लिए दस लाख रुपये बयाने के तौर पर ले लिये फिर टालमटोल करने लगा। थाना पुलिस से शिकायत की लेकिन, कोई कार्रवाई नहीं हुई। दो साल पुराने मामले में किला पुलिस ने शनिवार को कोर्ट के आदेश पर रिपोर्ट दर्ज की।

किला के उर्मिला काटेज निवासी संजय अग्रवाल के मुताबिक, पत्नी मुक्ता अग्रवाल ने करीब दो साल पहले एक प्लाट का सौदा प्रेमनगर के रहने वाले विजय सिंह से किया था। बातचीत तय होने के बाद मुक्ता ने दस लाख रुपये विजय को बयाने के रूप में दे दिये। बयाना मिलने के बाद आरोपित विजय ने प्लाट पर लोन होने की बात कही। लोन चुकाने के बाद रजिस्ट्री का आश्वसन दिया। काफी समय बीतने के बाद भी जब रजिस्ट्री न हुई तो मुक्ता ने रकम वापस की बात कही।

इस पर आराेपित टालमटोल करने लगा। काफी दबाव के बाद चार लाख रुपये वापस कर दिये और छह लाख रुपये के लिए चेक दिये। तय तारीख के बाद चेक बैंक में लगाए गए तो पता चला कि संबंधित चेक ही आरोपित ने बंद करा दिये हैं। आरोप है कि शिकायत की बात पर आरोपित ने जान से मारने की धमकी दी और रुपये देने से इन्कार कर दिया। कोर्ट के आदेश के बाद किला पुलिस ने मामले में रिपोर्ट दर्ज की।

Edited By: Ravi Mishra