जेएनएन, बरेली :  ईट भट्टे पर परिवार समेत मजदूरी करने वाली किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया। विरोध पर आरोपितों ने उसे जमकर पीटा। चार दिन तक पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की तो पीड़िता ने सीओ से शिकायत की। जिसके बाद आरोपितों पर मुकदमा दर्ज किया जा सका।

मूलरूप से शाहजहांपुर का रहने वाला एक परिवार पिछले कुछ दिनों से फतेहगंज पूर्वी में रहकर भट्ठे पर मजदूरी करता है। सात जनवरी की दोपहर को उस परिवार की सत्रह वर्षीय किशोरी खेत पर गई थी। वहीं सुनील कुमार व उसका दोस्त किशोरी को खेत के अंदर खींच ले गया, दुष्कर्म किया। किशोरी ने मदद के चीखने की कोशिश की तो उसका मोबाइल मुंह में ठूंस दिया।

दुष्कर्म के बाद आरोपित फरार होने लगे तो पीड़िता ने विरोध किया, पुलिस में शिकायत की बात कही। जिस पर बौखलाए आरोपितों ने खेत से गन्ने तोड़कर उसी से पीड़िता को जमकर पीटा। इसके बाद आरोपित फरार हो गए। घर पहुंची पीड़िता ने परिजनों को घटना के बारे में बताया तो वे थाने पहुंचे। शिकायत पर पुलिस ने घटनास्थल का मुआयना किया मगर रिपोर्ट दर्ज नहीं की।

रविवार को पीड़िता ने सीओ नागेंद्र यादव से शिकायत करने पहुंची तब शाम को सुनील व उसके अज्ञात साथी के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। सीओ खुद भी थाने पहुंचे और आरोपित की गिरफ्तारी के लिए टीमें भेजीं।

कटरा विधायक से मिलने पहुंचे थे परिजन

थाने में सुनवाई न होने पर पीड़ित पक्ष परेशान था। इसके चलते वह उच्चाधिकारियों से मिलने की योजना बना रहे थे। रविवार होने के चलते वह नहीं गए। इससे पहले पीड़ित पक्ष कस्बे में रह रहे कटरा (शाहजहांपुर) विधायक वीरविक्रम सिंह के यहां भी पहुंचा था, हालांकि वह उस समय क्षेत्र भ्रमण पर थे।

Posted By: Abhishek Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस