बरेली, जेएनएन।  : रुहेलखंड विश्वविद्यालय में पांच सूत्रीय मांगों का ज्ञापन देने पहुंचे एबीवीपी के छात्र नेताओं ने सही आश्वासन न मिलने पर हंगामा व नारेबाजी की। रुविवि प्रशासन ने विरोध किया तो गुस्साए छात्र नेताओं ने प्रशासनिक भवन में ताला डाल दिया। जिसको लेकर सभी की सुरक्षा प्रभारी से झड़प हो गई। एक घंटे चला हंगामा मांगें पूरी होने के आश्वासन पर समाप्त हुआ। वहीं कुछ छात्र नेताओं ने कुलपति के गनर पर धक्कामुक्की करने का आरोप लगाया।

एबीवीपी कार्यकर्ता स्नातक के जारी रिजल्ट में हुई गड़बड़ी, एलएलबी व एलएलएम के प्रवेश की तिथि आगे बढ़ाने, महाविद्यालय द्वारा विलंब शुल्क के नाम पर हो रही वसूली को बंद किए जाने, विश्वविद्यालय से छात्रावास के रास्ते में मार्ग प्रकाश व्यवस्था किए जाने की मांग का ज्ञापन परीक्षा नियंत्रक अशोक कुमार अरविंद को दिया। जहां संतुष्ट उत्तर न मिलने पर सभी ने नारेबाजी करते हुए कुलपति से मिलने उनके कार्यालय पहुंचे।

कुलपति के गनर पर फूटा छात्र नेताओं का गुस्सा

छात्र नेताओं का कहना है कि काफी देर नारेबाजी करने के बाद कुलपति उनसे मिलने को तैयार हुए। आरोप है कि कुलपति कक्ष में नारेबाजी से गुस्साए कुलपति ने सभी को बाहर करने के निर्देश दिए। इसी बीच उनके गनर से भी धक्कामुक्की छात्र नेताओं से हुई। बताया जाता है कि गुस्साए छात्र नेताओं ने गनर की पिटाई भी कर दी। कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी कर बाद में प्रशासनिक भवन में ताला डालने की कोशिश की, जिसको लेकर सुरक्षा प्रभारी सुधांशु शर्मा से भी धक्का-मुक्की हुई।

आश्वासन पर माने छात्र नेता

हंगामा बढ़ता देख कुलसचिव डा. राजीव कुमार मौके पर पहुंचे। उन्होंने ज्ञापन लेते हुए सभी मांगों को जल्द पूरा करने का आश्वासन दिया। जिसके बाद छात्र नेता शांत हुए। हंगामा, प्रदर्शन करने वालों में संगठन मंत्री अमित भारद्वाज, प्रदेश सहमंत्री गौरव यादव, विभाग संयोजक अनिल, महानगर मंत्री हर्ष अग्रवाल, श्रेयांश बाजपेई, शिवम सक्सेना, आदित्य सक्सेना, प्रशांत, अमन, शिमोन, अर्पित, सक्षम, दिव्यांशी रस्तोगी, रवि आदि रहे।

 

Edited By: Ravi Mishra