बरेली(जेएनएन)। पाकिस्तान के सिंध और राजस्थान से उठे चक्रवाती तूफान ने रविवार रात जानलेवा कहर ढाया। आंधी-तूफान के कारण हुए हादसों में एक दर्जन लोगों की जान चली गई। आधा दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए। अकेले शीशगढ़ क्षेत्र के गांव बंजरिया में मस्जिद की मीनार ढहने से मरने वालों की संख्या दो से बढ़कर पांच पहुंच गई। तीन अन्य हादसे बदायूं रोड और शहर तहसील में हुए। सुबह से ही बहेड़ी, सदर सहित अन्य सभी तहसीलों के एसडीएम, तहसीलदार क्षेत्र में नुकसान आकलन करने पहुंचे। परिजनों की तस्दीक कर मुआवजे की कवायद सुबह ही शुरू हो गई। शाम साढ़े पौने पांच बजे तक सभी मृतकों के आश्रितों के खातों में सहायता राशि के तौर पर चार-चार लाख रुपये भेज दिए गए।

बंजरिया में उजड़ गए दो परिवार

सबसे बड़ा हादसा बहेड़ी तहसील में छंगाटांडा के पास बंजरिया गांव में हुआ। गांव में स्थित मस्जिद की मीनारों का निर्माण कार्य कराया जा रहा है। बगल में ही कुछ घर हैं। रविवार रात आई तेज आंधी में एक ताजा बनी मीनार भरभरा कर पड़ोस के दो घरों के ऊपर जा गिरी। हादसे में शफी अहमद की बेटी मोबीन पत्नी राशिद और इकरार की तीन वर्षीय बेटी की मौके पर ही मौत हो गई थी। देर रात तीन अन्य लोगों ने निजी अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। इसी हादसे में दो माह की एक दुधमुंही बच्ची सहित छह अन्य घायल हैं। दुधमुंही बच्ची और चार साल के एक बालक की हालत गंभीर है। डीएम के निर्देश पर इन्हें क्रिटिकल केयर यूनिट में भर्ती कर इलाज किया जा रहा है। शहर में अलग-अलग हादसों में तीन की मौत

उधर, पेड़ और खंभे गिरने से शहर में भी बड़ा नुकसान हुआ। अलग-अलग हादसों में तीन लोगों की मौत हो गई। प्रशासन ने सभी मौतों को दैवीय आपदा से हुई जनहानि में माना है। तहसीलदार और एसडीएम सदर ने मृतकों के परिजन की जानकारी की। तब शाम तक प्रभावित परिवार के खाते में सहायता राशि भेजी जा सकी। मीनार हादसा

- रफीक अहमद पुत्र अली अहमद, बंजरिया

- परवीन पत्नी आरिफ (पुत्री शफी अहमद), देवरनियां

- मोबीन पत्नी राशिद (पुत्री शफी अहमद), देवरनियां

- अलीजा पुत्री इकरार अहमद, बंजरिया

- रईमा पुत्री मोबीन, बंजरिया अन्य की मौत

- सोनू (22) पुत्र मुन्नालाल शर्मा, बेनीपुर चौधरी के पास बंशीनगला

- डेविड पी. लाल (50) पुत्र प्यारेलाल, मिशन कंपाउंड, सिविल लाइंस

- लक्ष्मण सिंह (48) पुत्र धनपाल, निवासी बीडीए कॉलोनी, करगैना घायल

- हारुन पुत्र शफी अहमद, बंजरिया

- वहीदन पुत्री शफी अहमद, बंजरिया

- इकरार पुत्र शफी अहमद, बंजरिया

- फरजाना पत्नी इकरार, बंजरिया

- असद पुत्र इकरार, बंजरिया (उम्र 4 साल)

- नेहा उर्फ माहिरा पुत्री राशिद (उम्र 2 माह)

क्या कहते हैं डीएम - आंधी ने काफी नुकसान किया है। आठ लोगों की मृत्यु आंधी के हादसों में हुई है। मैंने बंजरिया गांव में घटनास्थल देखा। मीनार गिरने के कारणों की भी जांच कराई जाएगी। सभी मृतकों के आश्रितों को आर्थिक सहायता भेज दी गई है। रिपोर्ट शासन को भेजी जा रही है।

-वीरेंद्र कुमार सिंह, डीएम

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप