रामसनेहीघाट (बाराबंकी), संवादसूत्र। बुजुर्ग महिलाओं की हत्या के आरोपित को अयोध्या की मवई पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से पकड़ लिया है। साइको किलर का पोस्टर जिले से जारी हुआ था, जिसके जरिए ग्रामीणों को इसका पता चला। आरोपित बुजुर्ग महिलाओं की हत्या करने के बाद दुष्कर्म करता था ताकि कोई विरोध न कर सके। रामसनेहीघाट पुलिस ने आरोपित को लाकर तस्दीक की, जिसमें साइको किलर ने इस बात को स्वीकार किया है। करीब एक माह से पुलिस उसकी तलाश में थी।

एक महीने बाद आना था गौना

असंद्रा थाना के ग्राम सड़वा निवासी अमरेंद्र उर्फ अरविंद पुत्र सालिक राम गुजरात के एक होटल में नौकरी करता था। पांच वर्ष पहले उसकी शादी पास के एक गांव से हुई थी, जिसका गौना 24 फरवरी को आना था।

मवई पुलिस ने जताई थी आपत्ति

साइको किलर तीन दिसंबर को गुजरात से अपने घर सड़वा आया था। पांच दिसंबर को उसने एक महिला से जबरदस्ती का प्रयास किया था। 17 दिसंबर व 29 दिसंबर को उसने महिलाओं की हत्या कर दुष्कर्म किया था। इसके बाद मवई थाना की एक गांव निवासी महिला की हत्या प्रयास किया, जिसमें उसका वीडियो प्रसारित हो गया था। बाराबंकी पुलिस ने जब यह वीडियो जारी किया तो मवई पुलिस ने आपत्ति जताई थी। कहा था कि ऐसी घटनाएं यहां नहीं हुई हैं।

परवरिश ने बना दिया हत्यारा

आरोपित अरविंद के पिता सालिक राम ने तीन शादियां कीं। एक पत्नी किसी दूसरे व्यक्ति के साथ चली गई थी। अरविंद पहली पत्नी का पुत्र था। उसके सामने ही पिता ने दो शादियां की थीं। उसके पिता ने परवरिश पर ध्यान नहीं दिया। धीरे-धीरे वह पोर्न वीडियो देखने लगा। पुलिस की पूछताछ में आरोपित ने बताया कि जब भी वह बुजुर्ग महिला को देखता तो उस पर खून सवार हो जाता था।

ग्रामीणों ने हत्यारे को पकड़ा

सोमवार को मवई थाना क्षेत्र के एक गांव के बाहर गन्ने के खेत में 45 वर्षीय महिला काम कर रही थी। अमरेंद्र उर्फ अरविंद उसे खेत में खींच ले गया। महिला के चिल्लाने पर लोग एकत्र हो गए। वह महिला की हत्या का प्रयास कर रहा था। घटना में महिला गंभीर घायल हो गई, जिसे इलाज के लिए लखनऊ भेजा गया है। ग्रामीणों ने आरोपित काे पकड़ लिया और उसकी पिटाई कर दी। जिले से जारी पोस्टर से उसका लोगों ने मिलान किया तो वही साइको किलर निकला। ग्रामीणों ने मवई पुलिस के हवाले कर दिया।

बाराबंकी पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार सिंह ने बताया क‍ि बुजुर्ग की हत्या करने वाले आरोपित को मवई पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से पकड़ा है। आरोपित को यहां लाया गया था। जहां पर घटना हुई थी, वहां पर तस्दीक कराई गई। आरोपित ने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया है।

Edited By: Prabhapunj Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट