बाराबंकी, जेएनएन। बहुचर्चित टिकैतनगर हत्याकांड का दो साल बाद राजफाश हो गया। घटना किसी तरह का हादसा नहीं थी बल्कि युवती की ऑनर किलिंग की गई थी। पुलिस अधीक्षक ने चौंकाने वाला खुलासा किया है जिसमें रिश्‍तों को शर्मसार करने वाली हकीकत सामने आई है। आरोपित पिता भी युवती के साथ दुष्कर्म का प्रयास कर चुका था और आए दिन नशे में उसके घर के पुरुष मारते पीटते थे। जिससे प्रताडि़त होकर वह घर से भाग गई थी, जिसे पकड़कर पहले हत्या की फिर हादसे का रुप देने के लिए सड़क पर डाल दिया था।

पिता ने की थी दुष्‍कर्म की कोशिश 

एसपी ने बताया कि युवती का पिता, चाचा व भाई आदि शराब के नशे में आए दिन उसे मारते पीटते थे। यही नहीं करीब दो साल पूर्व स्वयं पिता ने युवती के साथ दुष्कर्म की कोशिश की थी। प्रताडऩा से आहत होकर युवती घर से भाग गई थी और गांव के ही युवक के साथ भागने की तैयारी में थी, लेकिन युवक ने साथ जाने से इंकार कर दिया था। इसी दौरान सुराग मिलने पर परिवारजन ने युवती को पकड़ लिया। वह उसे घर ले जाना चाहते थे, लेकिन युवती विरोध करने लगी। जिससे पिता, भाई व चाचा सहित एक अन्य व्यक्ति ने उसे लाठी डंड़े आदि से नृशंसता पूर्वक पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया। इसके बाद शव को ले जाकर गांव से दो सौ मीटर पहले ईंट भट्टे के पास सड़क पर डाल दिया था। जिससे वाहनों की चपेट में आकर शव क्षतिग्रस्त हो जाए और पिटने के निशान न मिल सकें। 

ताऊ की तलाश जारी 

एएसपी अशोक कुमार व सीओ पवन गौतम के निर्देशन में टिकैतनगर कोतवाल पीके झा ने चारों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। घटना स्थल से पुलिस ने हत्यारोपित भाई की टोपी भी बरामद की है। आरोपितों की निशानदेही पर पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त डंडा भी बरामद कर लिया है। इस पूरी हत्या व साजिश में शामिल एक आरोपित अभी पुलिस की पकड़ से दूर है जो मृतका का रिश्ते में ताऊ लगता है जिसकी तलाश चल रही है। 

Posted By: Anurag Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस