बाराबंकी : किसानों को गन्ना तौलने के लिए पर्चियां दी जाएंगी। विभाग से हुए सर्वे का सट्टा प्रदर्शन शुरू कर दिया गया है। गांव-गांव शिविर लगाकर किसानों को उनके खेत से संबंधी जानकारियां दी जा रही है। किसानों की मांग पर संशोधन, सहमति ली जा रही है।

दरियाबाद समिति पर शिविर का आयोजन हुआ, जिसमें किसानों को उनके गन्ना रकबे और सर्वे के बारे में बताया गया। जिले में साढ़े 11 हजार हेक्टेअर में गन्ने की फसल है, जहां लगभग 14 हजार गन्ना किसान है।

इनसेट : किसानों को जमा करना होगा खतौनी

जिला गन्ना अधिकारी हेमेंद्र प्रताप ¨सह ने बताया कि गन्ना किसानों को 35 क्विंटल पर एक पर्ची दी जाती है। इसी आधार पर किसानों को पर्ची कटवाने के लिए बनाया जाएगा, फार्म भरना होता है। इस बार मिल प्रबंधकों से बात कर नवंबर के पहले सप्ताह में चालू कराने के लिए बात करेंगे। सभी किसान खतौनी अपने नजदीकी समितियों पर जरूर जमा कर देंगे, ताकि उनकी पर्चियां आसानी से बनाई जा सकें। गन्ना तौल कराने से पहले किसानों को समितियों में सदस्य बनना पड़ता है। सदस्य बनने के लिए गन्ना किसानों को सचिव से मिलकर 221 रुपये देकर आजीवन सदस्यता करा सकता है। 31 सितंबर तक किसान सदस्य बन सकेंगे।

Posted By: Jagran