बाराबंकी : मुखबिर की सूचना पर असंदरा पुलिस ने मारफीन का अदान प्रदान कर रहे दो तस्करों को रंगे हाथों दबोच लिया। पुलिस ने मारफीन देने आए तस्कर से मारफीन और लेने आए तस्कर से नकदी अपने कब्जे में लिया। मामला थाने पहुंचा, लेकिन कार्रवाई के बजाय पुलिस ने बरामद मारफीन व नकदी को हड़पकर दोनों तस्करों को छोड़ दिया।

मामला असंदरा थाने का दो दिन पुराना है। शुक्रवार को थाने के सिपाही को मुखबिर से सूचना मिली कि एक मारफीन तस्कर माल सप्लाई करने जा रहा है। सतर्क हुए सिपाही ने उस तस्कर को मौके पर धर दबोचा। उसके साथ रुपये लेकर मारफीन लेने आए दूसरे तस्कर को भी पकड़ लिया। पूछताछ के दौरान एक अन्य व्यक्ति का नाम भी आया। पुलिस तीसरे को भी थाने उठा लाई। इसके बाद शुरू हुआ से¨टग गे¨टग का खेल। आखिरकार पुलिस ने बरामद मारफीन और नकदी दोनों को हजम कर लिया और तस्करों को छोड़ दिया। जबकि तीसरे आरोपी को हिरासत में ही रखा। सूत्रों की मानें तो पुलिस हिरासत में यह तीसरा आरोपी दरअसल मारफीन पियक्कड़ था जो मुख्यारोपी के पास पत्नी से पांच सौ रुपये लेकर अपनी लत पूरी करने आया था। जिसे मुख्य तस्कर अपने साथ बाइक पर ले गया और भिटरिया चलने की बात कहकर उसे रास्ते में उतार दिया था। वहीं

अपर पुलिस अधीक्षक दक्षिणी शशिकांत तिवारी ने बताया कि मामला संज्ञान में आया है। प्रकरण की जांच की जाएगी। अगर मामला सही पाया जाता है तो आरोपी सिपाही अथवा अन्य पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि फोन पर हुई प्रभारी निरीक्षक असंदरा से वार्ता पर उन्होंने इसे गलत बताया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस