बाराबंकी, जेएनएन। जवाहरलाल नेहरू मेमोरियल पीजी कालेज (जनेस्मा) में स्नातक व परास्नातक की 20 प्रतिशत सीटें बढ़ेंगी। कालेज प्रशासन की ओर से अवध विश्वविद्यालय के कुलपति को इस संबंध में पत्र भेजा गया है। अभी तक स्नातक और परास्नातक में 600 सीटों पर प्रवेश दिया गया है।

जनेस्मा में वर्तमान में स्नातक व परास्नातक के विभिन्न विषयों में करीब तीन हजार छात्र-छात्राएं अध्ययन कर रहे हैं। प्रथम चरण में कालेज में बीए, बीएससी मिलाकर 600 सीटें थीं जो फुल हो चुकी हैं। कालेज में स्नातक व परास्नातक में प्रवेश के लिए बड़ी संख्या में लोगों ने आवेदन किए थे। इसको देखते हुए प्राचार्य प्रो.सीताराम सिंह ने अवध विश्वविद्यालय के कुलपति डा. अखिलेश कुमार सिंह को सीटें बढ़ाने का पत्र भेजा है। 

अब भी परास्नातक प्रथम सेमेस्टर में खाली हैं सीटें

जनेस्मा में अब भी परास्नातक में कई विषयों की सीटें रिक्त हैं। इसमें शिक्षाशास्त्र में 14 सीटें खाली हैं। वहीं, मध्यकालीन इतिहास में 53, अंग्रेजी में 53, अर्थशास्त्र में 69, समाजशास्त्र में नौ व हिंदी विषय में 20 सीटें रिक्त हैं। इसके अतिरिक्त बीबीए में 49 सीटें खाली हैं, जबकि बीएससी प्रथम सेमेस्टर में 100 सीटें खाली हैं। बीसीए में कुछ सीटें शेष हैं।

प्रथम सेशनल टेस्ट सितंबर के अंत में

प्राचार्य ने बताया कि विश्वविद्यालय की ओर से निर्धारित अकादमिक समय सारिणी के अनुरूप सत्र 2022-23 में बीए, बीएससी प्रथम वर्ष प्रथम सेमेस्टर में प्रवेश लेने वाले छात्र-छात्राओं का प्रथम सेशनल टेस्ट सितंबर के अंतिम सप्ताह में प्रस्तावित है। प्रथम सेशनल टेस्ट के रूप में छात्र-छात्राओं से असाइनमेंट जमा कराया जाएगा। 

जनेस्मा के प्राचार्य प्रो. डा. सीताराम सिंह ने कहा, सीटें बढ़ाने को अवध विश्वविद्यालय से अनुमति मांगी गई है। अनुमति मिलते ही बचे हुए छात्र-छात्राओं को प्रवेश दिया जाएगा। बीबीए, बीसीए प्रथम प्रथम सेमेस्टर में बची हुई रिक्त सीटों पर प्रवेश के लिए इच्छुक छात्र-छात्राएं महाविद्यालय की वेबसाइट पर आनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इसमें वह छात्र भी आवेदन कर सकते हैं, जिनका इयर गैप है।

Edited By: Shivam Yadav