जागरण संवाददाता, बांदा : डाक विभाग की इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक सेवा (आइपीबीपी) को पंख नहीं लग पा रहे। यह सेवा ग्रामीण क्षेत्रों के लिए बेहद कारगर शाबित हो सकती है। बैंकिग सुविधा में उपभोक्ताओं को मिनिमम बैलेंस की समस्या से भी छुटकारा दिया गया है। योजना का शुभारंभ हुए छ: माह का समय बीत चुका है। लेकिन डिवीजन में नाम मात्र उपभोक्ताओं के खाते ही खुल पाए हैं।

डाक विभाग ने इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक सेवा के जरिए ग्रामीणों को घर बैठे बैंकिग सुविधा देने की मुहिम शुरू की है। इसके लिए ग्रामीण डाक सेवकों को स्मार्ट फोन उपलब्ध कराया गया है। योजना के तहत ग्रामीण डाक सेवक उपभोक्ता का घर में जाकर खाता खोलेंगे। धन की जमा, निकासी, सब्सिडी, पेंशन, बिजली बिल भुगतान, आरटीजीएस व छात्रवृत्ति आदि का वितरण भी मोबाइल के जरिए किया जा सकेगा। योजना का शुभारंभ 1 सितंबर 2018 को प्रदेश भर में किया गया था। डिवीजन में कुल शाखा डाकघर 469 हैं। जिसमें 420 शाखा डाकघरों में इसका काम शुरू हो चुका है। 49 शाखा डाकघरों में अभी इसे शुरू भी नहीं किया जा सका है।

---------

क्या आ रही है समस्याएं

- शाखा डाकपाल को इसकी जिम्मेदारी सौंपी गई है। अधिकांश शाखा डाकघरों में एक-एक कर्मचारी की तैनाती है। जिनके जिम्मे डाक वितरण का काम है। डाक बांटने में ही इनका समय व्यतीत हो जाता है। काम की अधिकता के कारण डाकपाल इस कार्य को करने में असमर्थता जता रहे हैं। प्रचार-प्रसार के अभाव में भी योजना का लाभ ग्रामीण नहीं ले पा रहे।

--------

योजना की प्रमुख विशेषताएं

- टोल फ्री नंबर 155299 पर फोन करने पर कुछ घंटों में ही उपभोक्ता के घर कैश लेकर पहुंचेगा डाकिया

- सरकारी सब्सिडी, मनरेगा मजदूरी, श्रमिकों को मिलने वाली लाभकारी योजनाओं की धनराशि

- अशिक्षित व्यक्ति भी घर बैठे अपने खाते से निकाल सकेगा धनराशि

- बायोमीट्रिक मशीन में अंगूठा लगाते ही मोबाइल बताएगा खाते में शेष धनराशि की स्थिति

- आइपीबीपी खाते से किसी भी बैंक खाते में स्थानांतरण की मिलेगी सुविधा

- एक बार में उपभोक्ता निकाल सकेगा पांच हजार की धनराशि, नहीं रहेगी धोखाधड़ी की गुंजाइस

-------------

डिवीजन में आइपीबीपी की स्थिति

जनपद शाखा डाकपाल खुले खाते

बांदा 180 1362

हमीरपुर 90 780

महोबा 64 465

कर्वी 73 586

----------

- डिवीजन के 49 शाखा डाकघरों में योजना की शुरुआत अभी नहीं हो पाई है। जल्द ही इनके शाखा डाकपालों को मोबाइल उपलब्ध कराए जाएंगे। योजना का प्रचार-प्रसार भी कराया जाएगा ताकि उपभोक्ता तेजी से योजना में जुड़कर लाभ ले सकें।

जाहर सिंह

डाक अधीक्षक, चित्रकूट धाम डिवीजन

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप