जागरण संवाददाता, बांदा : खेत से लौटते समय अज्ञात वाहन की टक्कर लगने से बाइक सवार किसान गंभीर रूप से घायल हो गए। स्वजन के कानपुर ले जाने पर वहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई। घटना से स्वजन बेहाल हैं। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर लिखा-पढ़ी की है।

शहर कोतवाली क्षेत्र के मुहल्ला बंगालीपुरा निवासी रामभरोसे का 36 वर्षीय पुत्र किसान रामदीन बुधवार शाम अपने गांव गोरखरही खेत गए थे। वहां से रात में बाइक पर वापस लौटते शहर के मंडी समिति के पास अज्ञात वाहन की टक्कर लग गई थी। राहगीरों की सूचना पर पुलिस ने घायल किसान को जिला अस्पताल में भर्ती कराया था। जहां से चिकित्सकों ने उन्हें प्राथमिक उपचार के बाद हालत नाजुक देखकर कानपुर ले जाने की सलाह दी थी। इससे स्वजन कानपुर के एक निजी अस्पताल ले गए थे। गुरुवार रात वहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई। पिता समेत अन्य स्वजन ने बताया कि उनके पास करीब छह बीघा जमीन है। इसके अलावा परिवार के भरण-पोषण के लिए किसान रामदीन करीब आठ बीघा जमीन बटाई लिए थे। ट्रैक्टर से दूसरों के खेतों की जुताई भी करते रहे हैं। उनके दस माह का एक बेटा है। कोतवाली निरीक्षक योगेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि अभी स्वजन की ओर से तहरीर नहीं मिली है। इससे मुकदमा दर्ज नहीं हुआ है।

------------------------

डेढ़ माह पहले भी घर में हो चुकी है गमी

- सड़क में हादसे में दम तोड़ने वाले किसान चार भाइयों में दूसरे नंबर के थे। उनके घर में डेढ़ माह पहले भी भाई राधे गोविद की बीमारी से मौत हो चुकी है। स्वजन अभी राधे के गम से उबर नहीं पाए थे। घर में चंद दिनों के अंदर दूसरी मौत हो गई है। पत्नी कल्पना समेत अन्य स्वजन का रो-रोकर बुरा हाल है।

Edited By: Jagran