जागरण संवाददाता, बांदा : समुदाय में परिवार नियोजन संबंधी जागरूकता एवं स्वीकार्यता बढ़ाने को लेकर मंडल के सभी स्वास्थ्य केंद्रों में 21 जून सोमवार को खुशहाल परिवार दिवस मनाया जाएगा। यहां लोगों को परिवार नियोजन अपनाने के प्रति जागरूक किया जाएगा। लाकडाउन की वजह से पिछले दो माह से यह आयोजन बंद था।

अपर निदेशक स्वास्थ्य डा. आरबी गौतम ने बताया कि वैश्विक महामारी की दूसरी लहर की वजह से स्वास्थ्य सेवाएं भी प्रभावित हो रही थीं। भीड़ को कम करने के लिए ऐसे आयोजनों पर सरकार की ओर से रोक लगा दी गई थी। लेकिन अब संक्रमण की गति बेहद धीमी होने की वजह से स्वास्थ्य सेवाएं धीरे-धीरे फिर संचालित की जा रही हैं। 21 जून को परिवार खुशहाल दिवस मनाया जाएगा। इस संबंध में सभी मुख्य चिकित्साधिकारियों को पत्र भेजा जा चुका है। एनएचएम के मंडलीय प्रबंधक आलोक कुमार ने बताया कि परिवार नियोजन एक ऐसा मुद्दा है। जिससे आने वाले भविष्य का निर्माण होता है। इसलिए परिवार नियोजन की सुविधाओं को समय से पहुंचाना हमारा दायित्व है। मंडलीय लाजिस्टिक मैनेजर अमृता राज ने बताया कि प्रत्येक आशा को जिम्मेदारी दी गई है कि वह कम से कम एक महिला को प्रेरित कर अंतरा का लाभ दिलवाएं। लक्ष्य के तहत हर ब्लाक स्तर पर 40 अंतरा इंजेक्शन लाभार्थी सुनिश्चित करना है। उन्होंने बताया कि आशाएं घर-घर जाकर लोगों को परिवार नियोजन के संसाधन बांटेंगी। साथ ही कोरोना संक्रमण के चलते लोगों को मुंह में सही तरीके से मास्क लगाने, भीड़भाड़ से बचने व हाथों को बार बार धोने के लिए भी प्रेरित करेंगी।

Edited By: Jagran