संवाद सहयोगी बबेरू : तहसील क्षेत्र के ग्राम मुरवल में ईनामी दंगल का आयोजन हुआ। पुल के पास स्थित मैदान में मेले का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि सांसद भैरो प्रसाद मिश्र व विधायक चन्द्रपाल कुशवाहा रहे। उन्होंने कहा कि कुश्ती कला एक दांव-पेंच का खेल है। इस कला को राष्ट्रहित के लिए खेल को प्राथमिकता देना चाहिए। दंगल में 21 हजार की इनामी कुश्ती राजेश व खालिक के बीच बराबरी पर छूटी ।

रविवार को ग्राम मुरवल में दंगल व मेले का आयोजन किया गया। दंगल में प्रदेश के साथ-साथ हरियाणा, मध्य प्रदेश, राजस्थान, दिल्ली, पंजाब के पहलवानों ने अपनी कला का प्रदर्शन किया। दंगल की सबसे बडी 21 हजार रुपये की इनामी कुश्ती राजेश मर्का व दिल्ली के पहलवान खालिक के बीच 20 मिनट तक चली। जो बराबरी पर छूटी। श्याम मुगुंस-राजा एटा, मोहर ¨सह जालौन-श्रीराम लमेहटा, कृष्णा मथुरा-टीमन गोरखपुर, शिवविलास पलरा-जावेद दिल्ली, रवी फिरोजाबाद-हुकुम हमीरपुर सहित करीब 2 दर्जन से अधिक पहलवानों ने अखाडे में दांव पेंच दिखाए। मुख्य अतिथि सांसद व विशिष्ट विधायक ने कहा कि खेल के नाम पर केन्द्र व प्रदेश की सरकार पैसा खर्च कर रही है। इस दौरान नगर पंचायत अध्यक्ष विजयपाल ¨सह, आलोक मिश्रा, ¨रकू ¨सह, राकेश ¨सह कछवाह, पंकज द्विवेदी, अब्दुल रज्जाक, देशपाल, रामशरण, रमेश ¨सह, अच्छेलाल, रमेश ¨सह कछवाह, दिनेश आदि मौजूद रहे। कार्यक्रम के आयोजक प्रधान आलोक मिश्रा ने सहयोगियों का आभार जताया।

Posted By: Jagran