भाकियू ने तहसील परिसर में की बैठक, समस्याओं पर चर्चा

जागरण टीम, अतर्रा/पैलानी/बांदा : भारतीय किसान यूनियन ने मंगलवार को सदर, अतर्रा व पैलानी तहसील परिसर में बैठक की। किसानों की विभिन्न समस्याओं पर चर्चा करने के साथ उससे संबंधित ज्ञापन एसडीएम को सौंपा। समस्याओं का शीघ्र निस्तारण न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी। भाकियू की अतर्रा में हुई बैठक में तहसील अध्यक्ष जितेंद्र चौरिहा व जिलाध्यक्ष महेंद्र त्रिपाठी ने कहा कि बेसहारा गोवंशों से फसलों को बचाने के लिए रतजगा करने को किसान मजबूर हैं। धान की रोपाई चल रही है, बिजली कटौती के चलते किसानी में देरी हो रही है। पांच सूत्रीय ज्ञापन एसडीएम विकास यादव को सौंपा। इधर, पैलानी व सदर तहसील में भी बैठक के बाद ज्ञापन सौंपा गया। कहा गया कि बेसहारा गोवंशों को स्थायी व अस्थायी गोशाला में रखने के लिए मुहिम चलाई जाए। बिजली विभाग द्वारा रोस्टिंग व फाल्ट के नाम पर कटौती को बंद कराया जाए। क्षेत्र में धान की रोपाई हो रही है, लेकिन उर्वरक की कमी है। शीघ्र ही उवर्रक की कमी को दूर कराया जाए। लेखपालों द्वारा वरासत दर्ज करने पर किसानों की जा रही लूट खसोट को तत्काल बंद कराया जाए। साथ ही गांवों में बनी चकरोड नाली को अवैध कब्जों से मुक्त कराया जाए। राजनरायन, सुशील कुमार, कमलेश, विवेक बिन्दु तिवारी, नवल आदि मौजूद रहे। बांदा में रामदास साहू, रामस्वरूप निषाद, रमेश तिवारी, रघुराज, श्यामचरण व गोपी सिंह आदि ने ज्ञापन सौंपा। इधर, बुंदेलखंड किसान मजदूर संघ ने बैठक कर विभिन्न समस्याओं पर चर्चा की। बैठक में कामता प्रसाद गुप्ता, बरदानी सिंह, कैलाश प्रसाद, कामता प्रजापति, रामजस काहू, मंजू बाला, सियाराम साहू आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट