वैक्सीन की किल्लत, रफ्तार नहीं पकड़ रहा टीकाकरण

संवादसूत्र,बलरामपुर: वैक्सीन किल्लत के चलते टीकाकरण अभियान तेजी नहीं पकड़ पा रहा है। 75 दिन के भीतर जिले में दूसरी डोज लगवा चुके 13 लाख 74 हजार 295 को टीका लगाया जाना है। इसके लिए प्रतिदिन 19000 हजार से अधिक वैक्सीन डोज की जरूरत है, लेकिन मुश्किल तीन से पांच हजार वैक्सीन की डोज ही मिल पा रही है। पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन न मिलने के कारण टीकाकरण सत्रों का संचालन नहीं कर पा रहा है। विभाग ने 200 से अधिक टीकाकरण सत्र संचालन करने की तैयारी कर रखी है, लेकिन वैक्सीन न मिलने के कारण मुश्किल से 80 या 100 टीकाकरण सत्र ही संचालित हो रहे हैं। टीकाकरण का यही हाल रहा तो 30 सितंबर के अंदर सभी शतप्रतिशत लाभार्थियों को वैक्सीन लग पाना मुश्किल हाे जाएगा। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. अजय कुमार शुक्ल ने बताया कि शत प्रतिशत लोगोें का टीकाकरण करने का पूरा प्रयास किया जा रहा है। वैक्सीन की मांग की गई है। मिलते ही सभी टीकाकरण सत्रों का संचालन कराया जाएगा। बैठक में हुई चर्चा : प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जोकहिया में टीकाकरण को लेकर तैयारी बैठक हुई। इसमें डा. जावेद अख्तर ने टीकाकरण सत्र बढ़ाने पर जोर दिया। स्वास्थ्य कर्मियों ने बताया कि वैक्सीन न मिलने के कारण सभी केंद्रों पर टीकाकरण नहीं हो पा रहा है। बैठक में डा. माहसिन, डा. जगमोहन, सुनील गुप्त व रीना मौजूद रहीं। एक ही दिन में मिले तीन संक्रमित बलरामपुर : संक्रमण ने एक बार फिर तेजी पकड़ ली है। सोमवार को तीन लोगों की रिपोर्ट पाजिटिव आई है जबकि संक्रमित चल रहा एक मरीज स्वस्थ हो गया। उतरौला,गैड़ास बुजुर्ग व तुलसीपुर के महाराजगंज तराई से एक ही दिन मिले इन संक्रमितों ने स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ा दी है। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. सुशील कुमार ने बताया कि अब तक 8297 संक्रमित मिल चुके हैं। इनमें 8154 स्वस्थ हो गए। 139 की मौत हो गई। चार केस एक्टिव है। तुलसीपुर व उतरौला में दो-दो कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं। सभी को कोविड नियमों का पालन करने के लिए जागरूक किया जा रहा है।

Edited By: Jagran