बलरामपुर : जिले में यूपी बोर्ड परीक्षा के सातवें दिन भी परीक्षार्थियों में सीसी कैमरे व वॉयस रिकॉर्डिंग मोड की दहशत दिखी। दोनों पालियों में हाईस्कूल व इंटरमीडिएट के 522 छात्र-छात्राओं ने परीक्षा छोड़ दी। पहली पाली में दसवीं के सिलाई विषय के पंजीकृत 11 में से दस ने परीक्षा दी। एक परीक्षार्थी अनुपस्थित रहा। जबकि दूसरी पाली में हाईस्कूल के वाणिज्य विषय में पंजीकृत सभी दस परीक्षार्थी मौजूद रहे। इंटरमीडिएट के अंग्रेजी विषय में पंजीकृत 9887 में से 9366 परीक्षार्थी सम्मिलित हुए। 521 छात्र-छात्राओं ने परीक्षा से किनारा कर लिया। सिटिग प्लान जानने को दिखी बेताबी :

-परीक्षा केंद्रों के बाहर जुटे परीक्षार्थियों में सिटिग प्लान जानने की बेताबी दिखी। नगर के एमपीपी इंटर कॉलेज, सिटी मांटेसरी इंटर कॉलेज, डीएवी इंटर कॉलेज समेत सभी केंद्रों के बाहर अंग्रेजी की परीक्षा के लिए दोपहर एक बजे से ही परीक्षार्थी जुटने लगे। केंद्रों के बाहर चस्पा रोल नंबर व सिटिग प्लान जानने को परीक्षार्थी उत्सुक रहे। केंद्र पर सघन तलाशी के बाद परीक्षार्थियों को प्रवेश दिया गया। कंट्रोल रूम से हुई निगरानी :

-नगर के एमपीपी इंटर कॉलेज को जिले का कंट्रोल रूम बनाया गया है। प्रथम पाली में कंट्रोल रूम प्रभारी योगेश कुमार मिश्र व सहायक प्रभारी ऐश्वर्य मिश्र ने बोर्ड परीक्षा से संबंधित सूचनाओं का आदान-प्रदान किया। कंट्रोल रूम में बैठकर जिले के सभी परीक्षा केंद्रों की निगरानी की जाती रही। दूसरी पाली में प्रभारी अरुण त्रिपाठी व सहायक परमित श्रीवास्तव की तैनाती रही। केंद्रों का लिया जायया :

-डीआइओएस महेंद्र कुमार कनौजिया ने बताया कि दोनों पालियों में मजिस्ट्रेट व सचल दल ने परीक्षा केंद्रों का जायजा लिया। किसी भी केंद्र पर कोई गड़बड़ी नहीं मिली है। केंद्र व्यवस्थापकों को परीक्षा की शुचिता बनाए रखने की हिदायत दी गई है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस