बलरामपुर: लाकडाउन के चलते घाटे में चल रही रोडवेज ने मां लक्ष्मी के पूजन से जुड़े महत्वपूर्ण पर्व दीपावली व छठ मइया के आर्शीवाद से झोली भरने की तैयारी शुरू की है। दो नवंबर से दीपावली पर्व शुरू हो रहा है, जबकि उत्तर भारत का प्रमुख त्योहार छठ पूजन दस नवंबर को है। दोनों त्योहारों पर अतिथि तुल्य यात्रियों को घर पहुंचाने के लिए परिवहन निगम ने प्रोत्साहन योजना शुरू की है।

दो से 11 नवंबर तक लागू प्रोत्साहन योजना में लगातार 10 दिन तक ड्यूटी करने वाले चालक व परिचालक को प्रोत्साहन के रूप में नौ दिन ड्यूटी पर 350 रुपये व 10 दिन ड्यूटी करने वाले 400 रुपये प्रतिदिन दिए जाएंगे। यही नहीं, तीन हजार किलोमीटर से अधिक बस संचालन करने पर संविदा चालकों व परिचालकों को प्रति किलोमीटर 55 पैसा अधिक दिया जाएगा।

कर्मियों को मिलेगा बोनस का उपहार:

डिपो में आने वाले हर यात्री को समय से बस मिले। वह घर पहुंचकर त्योहार मना सकें, इसलिए प्रोत्साहन योजना लागू की गई है। बलरामपुर डिपो में कार्यरत 250 चालकों व परिचालकों को प्रोत्साहन योजना का लाभ मिलेगा। प्रोत्साहन योजना में कर्मचारी भी मालामाल होंगे। इन्हें 10 दिन ड्यूटी पर एकमुश्त 1200 रुपये व नौ दिन ड्यूटी करने वाले को 1000 रुपये दिए जाएंगे। साथ ही क्षेत्रीय प्रबंधकों को 10 हजार रुपये कर्मचारियों में वितरित करने व सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक को प्रति बस 50 रुपये कर्मचारियों पर खर्च करने की अनुमति दी गई है।

ड्यूटी करने वालों को मिलेगा इनाम:

सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक वीके वर्मा का कहना है कि सभी चालकों, परिचालकों व कर्मचारियों से कहा गया है कि दीपावली व छठ पूजन के दौरान अधिक से अधिक ड्यूटी कर यात्रियों को गंतव्य तक पहुंचाएं। लगातार ड्यूटी करने वाले चालकों, परिचालकों व निगम कर्मियों को प्रोत्साहन राशि दी जाएगी।

Edited By: Jagran