बलरामपुर :

नगर एवं ग्रामीण क्षेत्रों में इस समय रामलीला की धूम है। मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम की विभिन्न लीलाओं का मंचन देखने के लिए दूर-दराज से लोगों की भीड़ पंडालों में पहुंच रही है। भगवतीगंज में लक्ष्मण शक्ति, तो हरिहरगंज में शबरी मिलन का ²श्य देख दर्शक मंत्रमुग्ध हो गए। इसी तरह ललिया व श्रीदत्तगंज में भी स्थानीय कलाकारों ने रामलीला में अनुपम अभिनय कर दर्शकों का रोमांच बढ़ाया।

-भगवतीगंज में श्रीश्री 108 श्रीरामलीला संकीर्तन समिति की रामलीला में पूर्व सांसद, जिला पंचायत अध्यक्ष दद्दन मिश्र ने रामलीला के कलाकरों का उत्साहव‌र्द्धन किया। शुक्रवार की रात लक्ष्मण शक्ति का मंचन किया गया। मेघनाथ से युद्ध के दौरान लक्ष्मण शक्ति बाण लगने से मूर्छित हो जाते हैं। इससे रामदल में शोक छा जाता है। सुषेन वैद्य के परामर्श संजीवनी बूटी लाने निकले बजरंगबली पूरा पर्वत ही उठा लाते हैं। लक्ष्मण की मूर्छा दूर होते ही पंडाल में जय श्रीराम, जय बजरंगबली के जयकारे गूंजने लगते हैं। गंगा शर्मा, रवींद्र गुप्त, सुनील गुप्त का विशेष योगदान रहा। उधर हरिहरगंज में श्रीश्री 108 बाल बजरंगदल रामलीला समिति की ओर से शबरी मिलन व अंगद-रावण संवाद का मंचन किया। समिति के अध्यक्ष राकेश शुक्ल, अवनीश उपाध्याय, श्रीनारायण मिश्र, रामफेरन गुप्त, विश्राम मौर्य, दद्दन सैनी, रमन मिश्र का सराहनीय योगदान रहा। ललिया स्थित श्रीश्री 1008 जय मोहनदास बाबा मंदिर में चल रही रामलीला में भी शबरी मिलन का मंचन हुआ। शबरी के जूठे बेर खाकर श्रीराम समाज को जाति-पात से बढ़कर प्रेम का संदेश देते हैं। राम का किरदार वेदप्रकाश द्विवेदी व लक्ष्मण की भूमिका हिमांशु द्विवेदी ने निभाई। श्रीदत्तगंज के सोमनाथ मंदिर पर चल रही रामलीला का मंचन देख दर्शक खूब आनंदित हुए। महंत जितेंद्र वन ने मंगलाचार्य से रामलीला का शुभारंभ किया। समिति अध्यक्ष अनूप सिंह, देवप्रकाश गुप्त, दीनदयाल जयसवाल, राहुल जायसवाल, मनीष गुप्त मौजूद रहे।

Edited By: Jagran