जासं, बलरामपुर : रिजर्व पुलिस लाइन में शुक्रवार को गोष्ठी का आयोजन हुआ। जिसमें ऑनलाइन केस डायरी लिखने पर जोर दिया गया। सात दिनों के भीतर सुधार न होने पर कठोर कार्रवाई किए जाने की चेतावनी दी गई। पुलिस अधीक्षक देवरंजन वर्मा ने कहा कि ऑन लाइन केस डायरी लिखी जानी है, लेकिन ऐसा लोग नहीं कर रहे हैं। अधिकांश विवेचक ऑपरेटर को बोल कर लिखवाते हैं। सर्किल अफसर व एसएचओ अपने मोबाइल पर वायस टाइपिग को एडिट करके मैसेज ऑपरेटर को भेज दें, ताकि समय से काम पूरा हो सके। उन्होंने कहा कि 65 विवेचक हाथ से केस डायरी लिखते हैं। जिसमें चार घंटे का समय खराब होता है। विवेचनाएं भी गति नहीं पकड़ पा रही है। जबकि 65 विवेचक नियमों का पूरी तरह से पालन कर रहे हैं।

पुलिस लाइन में नवनिर्मित कैंटीन का कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए। थानों से आए उप निरीक्षक व आरक्षियों को ग्लॉक पिस्टल चलाने के लिए उपनिरीक्षक नरेंद्र कुमार ने प्रशिक्षित किया। अपर पुलिस अधीक्षक अरविद मिश्र, क्षेत्राधिकारी उतरौला मनोज कुमार यादव, क्षेत्राधिकारी तुलसीपुर शिवप्रसाद, क्षेत्राधिकारी सदर प्रेम कुमार थापा, प्रतिसार निरीक्षक नंद लाल यादव समेत सभी थानों के प्रभारी निरीक्षक मौजूद रहे।

थानों की होगी मरम्मत : पुलिस अधीक्षक देवरंजन वर्मा ने बताया कि जिले के कोतवाली व थानों की मरम्मत कराई जाएगी। सभी थानाध्यक्षों व प्रभारी निरीक्षकों से प्रस्ताव मांगा गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस