बलरामपुर : जिले में गर्मी का कहर कम होने का नाम नहीं ले रहा है। दिन बा दिन तापमान बढ़ने से जनजीवन अस्त-व्यस्त है। रविवार को तापमान करीब 42 डिग्री सेल्सियस पार कर गया। सुबह से चिलचिलाती धूप होने से लोग घरों में दुबकने को मजबूर रहे। अवकाश का दिन होने के कारण लोग घरों से कम ही निकले। सड़क पर वाहन चालक लू के थपेड़ सहते हुए गमछा बांधकर आवागमन करते नजर आए। वहीं दूसरी तरफ उमस की मार झेल रहे लोग बिजली की आवाजाही से परेशान हैं। लोकल फाल्ट व इमरजेंसी रो¨स्टग के नाम पर होने वाली विद्युत कटौती ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। गर्मी से बिलबिलाते लोग पेड़ की छांव व हाथ पंखा का सहारा लेते दिखे। स्कूली बच्चे हो सकते हैं परेशान :

-स्कूलों में गर्मी की छुट्टियां खत्म होने में अब एक सप्ताह बाकी रह गया है। जिले में दो जुलाई से विद्यालय खोले जाने की तैयारी है। ऐसे में दिन बा दिन तापमान में इजाफा होने से गर्मी का कहर बढ़ता जा रहा है। गर्मी का सितम यूं ही जारी रहा तो स्कूली बच्चों को परेशानी उठानी पड़ सकती है। चिकित्सक डॉ. राजेश ¨सह बताते हैं कि बच्चों को गर्मी व धूप से बचाने की जरूरत है। उमस भरी गर्मी में छोटे बच्चों में बीमारी फैलने की संभावना अधिक रहती है। ऐसे में अभिभावकों को विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है। जिला विद्यालय निरीक्षक महेंद्र कुमार कनौजिया ने बताया कि दो जुलाई से स्कूल खुलेंगे। मौसम के अनुसार स्कूल संचालन व बंद करने के निर्देश जारी किए जाएंगे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस