बलरामपुर : अचानक बदले मौसम ने गर्मी से तंग लोगों को राहत तो दी, लेकिन नगर समेत ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली व पानी के लिए त्राहि-त्राहि मच गई। बारिश के चलते नगर के कई मुहल्लों में स्थित खंभों पर करंट उतर आने से छह गोवंशों की मौत हो गई। विद्युत खंभे झुक जाने व तार गिर जाने से बलरामपुर टाउन समेत कई फीडरों से होने वाली बिजली आपूर्ति बाधित रही। बिजली के अभाव में लोगों को पेयजल आपूर्ति भी नसीब नहीं हुई। ऐसे में भारी बारिश के बीच लोग घरों में दुबके बिजली आने का इंतजार करते रहे।

रविवार को तेज बारिश शुरू होने के साथ ही बलरामपुर टाउन फीडर की बिजली गुल हो गई। तड़के तीन बजे तक नगर के पहलवारा, नौशहरा, सिविल लाइन, अलीजानपुरवा, भंडारखाना, टेढ़ीबाजार, नई बस्ती समेत कई मुहल्लों में अंधेरा छा गया। सुबह बिजली न आने के कारण दस बजे तक होने वाली पेयजल आपूर्ति नौ बजे के पहले ही बंद हो गई। इसके बाद पूरे दिन बिजली न आने से लोगों के मोबाइल, टीवी, फ्रिज, कूलर व अन्य उपकरण शोपीस बन गए। विद्युतकर्मी पूरे दिन खराबी ढूंढ़कर मरम्मत करते रहे, लेकिन बिजली आपूर्ति बहाल करते ही तार व ट्रांसफार्मर फिर जल जाते। जिससे देर शाम तक अधिकांश मुहल्लों में बिजली नहीं आई। इसी तरह एसएसबी मुख्यालय के लिए बने अलग फीडर व बलुहा-गदुरहवा टंकी लाइन की बिजली भी गुल रही। करंट लगने से छह गोवंशों की मौत :

-नगर के बड़ी इमली चौराहा पर ट्रांसफार्मर के बगल खंभे में करंट उतर आने से चार गायों की मौत हो गई। उधर कलेक्ट्रेट के पास एक गाय व एमपीपी इंटर कॉलेज के पास एक सांड़ की करंट की चपेट में आने से मौत हो गई।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस