बलरामपुर: विकास खंड तुलसीपुर के बरदहवा गांव में कई दिनों से तेंदुए का आतंक जारी है। तेंदुए आए दिन बेसहारा पशुओं व मवेशियों को हमला कर घायल कर देता है। तेंदुए के भय से ग्रामीण शाम होते ही बच्चों व जानवरों को घर में छुपा लेते है। वन विभाग तेंदुए को पकड़ने में नाकाम साबित हो रहा है।

पूर्व प्रधान जगदंबा यादव ने बताया कि गांव के पूरब तरफ बगीचे में घूमा करता है। शाम होते ही वह जानवरों पर हमला कर घायल कर देता है। ग्रामीण प्रहलाद सिंह, संदीप कुमार मिश्र, अब्दुल मन्नान, नानबाबू का कहना है कि वन विभाग के अधिकारियों को तेंदुए की आमद की सूचना दी गई है। तेंदुए के न पकड़े जाने से ग्रामीणों में दहशत का माहौल है।

बरहवा रेंजर राकेश सिंह ने बताया है कि गांव में टीम भेजी गई है। ग्रामीणों को सतर्क रहने व समूह में निकलने की नसीहत दी गई है। एसपी ने जिला कारागार का किया निरीक्षण

बलरामपुर: पुलिस अधीक्षक हेमंत कुटियाल ने जिला कारागार का आकस्मिक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने ड्यूटी पर तैनात सिपाहियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

शनिवार को एसपी जिला कारागार का जायजा लेने पहुंचे। उन्होंने निरीक्षण के दौरान शस्त्रागार व कारागार परिसर की साफ-सफाई देखी। एसपी ने सफाई व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त रखने की हिदायत दी। इसके बाद उन्होंने अभिलेखों के रखरखाव का जायजा लिया।

कुंड में डूबने से मासूम की मौत

बलरामपुर: पिपरा घाट स्थित कुंड में डूबने से स्थानीय निवासी शाहिद के तीन वर्षीय ब<स्हृद्द-क्तञ्जस्>चे की मौत हो गई। बताया जाता है कि शनिवार को ब<स्हृद्द-क्तञ्जस्>चा खेलते-खेलते कुंड की तरफ चला गया था। काफी देर तलाश करने के बाद उसका शव शाम को कुंड से बरामद किया गया। पुलिस ने पंचनामा कर शव परिवारजन को सौंप दिया।

Edited By: Jagran