बलरामपुर: पुलिस महानिरीक्षक देवीपाटन परिक्षेत्र गोंडा डा. राकेश सिंह ने बुधवार को रिजर्व पुलिस लाइन में परेड का निरीक्षण किया। यूपी 112 के वाहनों का निरीक्षण करते हुए कर्मियों की कार्य कुशलता व दक्षता की भी जांच कर बेहतर रखरखाव के निर्देश दिए। इसके बाद सभागार में पुलिस अधीक्षक हेमंत कुटियाल, क्षेत्राधिकारियों व प्रभारी निरीक्षकों के साथ अपराध गोष्ठी की। इसके बाद ललिया व हर्रैया थाना का भी निरीक्षण किया।

पुलिस लाइन में परेड का निरीक्षण करते हुए आइजी ने सलामी ली। इसके बाद क्वार्टर गार्ड, शस्त्रागार, परिवहन शाखा, मालखाना स्टोर, आरक्षी बैरक, कैंटीन का निरीक्षण किया। आदर्श आरक्षी बैरक का उद्घाटन किया। परिसर में बन रहे नए आरक्षी बैरक की प्रगति की समीक्षा की। गोष्ठी में आइजी ने अपराध नियंत्रण, लंबित विवेचनाओं के त्वरित निस्तारण, आनलाइन प्राप्त होने वाली शिकायतों का प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण, संभ्रांत व्यक्तियों व जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक करने, सक्रिय अपराधियों, हिस्ट्रीशीटर अपराधियों की निगरानी, नेपाल सीमा से सटे गांवों को अपराध के संबंध में जागरूक करने के लिए चौपाल लगाने की बात कही। नियमित रूप से भीड़-भाड़ वाले स्थानों, चौराहों व बाजारों में पैदल गश्त करने, चीता मोबाइल के दिन-रात भ्रमणशील रहकर लोगों को सुरक्षा का अहसास दिलाने का निर्देश दिया।

महिला आरक्षियों को बीट वितरित कर लगातार क्षेत्र की महिलाओं व बालिकाओं के साथ मेलजोल बढ़ाने, मिशन अक्षरा के तहत ज्यादा से ज्यादा लोगों को साक्षर बनाने की बात कही। साथ ही महिला सशक्तीकरण, स्वावलंबन एवं उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करते हुए पुलिस सहायता के लिए वूमेन पार लाइन 1090, 181, चाइल्ड लाइन 1098, मुख्यमंत्री हेल्पलाइन 1076, ट्वीटर सेवा व यूपी 112 के बारे में जानकारी देने का निर्देश दिया। आइजी ने हर्रैया व ललिया थाना का निरीक्षण कर प्रभारी निरीक्षकों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

Edited By: Jagran