जागरण संवाददाता, सिकंदरपुर (बलिया) : आदर्श नगर पंचायत सिकंदरपुर के 12 से अधिक सभासदों ने गुरुवार को चेयरमैन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। नगर पंचायत में व्याप्त भ्रष्टाचार और सरकारी धन के बंदरबांट के खिलाफ एकजुट हुए सभासदों ने एसडीएम प्रशांत नायक को पत्रक सौंप कर जांच कराने की मांग की। आरोप लगाया कि नगर पंचायत अध्यक्ष व उनके गुर्गों द्वारा पिछले तीन सालों से सरकारी धन का जमकर दुरुपयोग किया जा रहा है। कस्बा के विकास के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति की जा रही है। नगर पंचायत के अधिकांश मार्गों के निर्माण में अनियमितता बरती गई है। सभासदों ने कहा कि सरकारी मानदेय पाने वाले कर्मचारी चेयरमैन का व्यक्तिगत कार्य निबटा रहे हैं। नपं के अधिकतर आउट सोर्सिंग कर्मचारी अध्यक्ष की दुकान पर काम कर रहे हैं। नगर पंचायत सिकंदरपुर में जल्पा मंदिर के पास स्थित सामुदायिक शौचालय की मरम्मत किया गया है जबकि उसे निर्माण कार्य बताया जा रहा है। इसके अलावा अन्य कई आरोप लगाते हुए सभासदों ने गबन की उच्चस्तरीय जांच कराने व चेयरमैन के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। इस दौरान शबनम परवीन, राहुल रावत, घनश्याम मोदनवाल, पिटू पाठक, मुमताज अहमद, रमेश यादव, लैला खातून, सोनमती देवी सहित नगर पंचायत के सभी सभासद मौजूद थे।

Edited By: Jagran