जागरण संवाददाता, सहतवार (बलिया) : वाराणसी-छपरा रेलखंड पर दतौली गांव के पास बुधवार की रात मोबाइल फोन पर बात करने से मना करने पर 17 वर्षीय मीनू शर्मा निवासी मुड़ाडीह ने ट्रेन से कटकर आत्महत्या कर ली। सुबह रेल पटरी किनारे उसका शव मिलने से सनसनी फैल गई। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

किशोरी देर रात को मोबाइल फोन पर किसी से बात कर रही थी। इस पर उसके पिता मोती लाल शर्मा ने उसे जमकर फटकार लगाई। अगले दिन सुबह रेलवे के किनारे उसका शव मिला। इस पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस के काफी प्रयास के बाद उसकी शिनाख्त हुई। सीओ प्रीति त्रिपाठी ने बताया कि किशोरी के स्वजनों से आवश्यक पूछताछ की गई। देर रात को मोबाइल पर किसी से बात करते समय उसके पिता ने डांटा था। इसके बाद वह सोने चली गई। रात को किसी समय उसने इस तरह की घटना का अंजाम दिया। मामले की गहराई से छानबीन की जा रही है। इस घटना से उसके स्वजन भी अवाक हो गए हैं।

----------------

ट्रेन की चपेट में आने से युवक की मौत

बलिया : वाराणसी से छपरा रेल खंड पर दुबहड़ ब्लाक के समीप गुरुवार को ट्रेन की चपेट में आने से 18 वर्षीय राधा पांडेय पुत्र दिलीप निवासी बलीपुर थाना बांसडीह रोड़ की मौत हो गई। सतनी सराय चौकी प्रभारी मंतोष सिंह ने शव के पास मिले कागजात के आधार पर उसकी शिनाख्त कर स्वजनों को घटना की जानकारी दी। शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया। मौत की खबर लगते ही स्वजनों में कोहराम मचा हुआ है।

Edited By: Jagran