जासं, बलिया : उप्र ग्राम पंचायत राज सफाई कर्मचारी संघ के तत्वावधान में विकास भवन परिसर में कार्यालय जिला पंचायत राज अधिकारी के सामने 10 सूत्रीय मांगों को लेकर जमकर नारेबाजी करते हुए धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान वक्ताओं ने कहा कि अगर हमारी मांगे नहीं मानी गईं तो 20 सितंबर से प्रत्येक विकासखंड स्तर पर सफाई कार्य बाधित कर आंदोलन किया जाएगा। धरना को संबोधित करते हुए जिलाध्यक्ष ददन भारती ने कहा कि उच्चाधिकारी से शिकायत के बाद भी सेवानिवृत्त कर्मचारी नेता के दबाव में पटल परिवर्तन किया जाना अधिकारियों की मिलीभगत को दर्शाता है। संघ ऐसे कृत्य का विरोध करती है। राज्य कर्मचारी महासंघ के जिलाध्यक्ष अजय कुमार यादव ने कहा कि विकास भवन में तथाकथित संगठनों के नेताओं द्वारा विकास भवन कार्यरत लिपिकों, कर्मचारियों व सफाई कर्मियों का शोषण किया जा रहा है व अनावश्यक रूप से धरना लगाकर कर हमेशा गलत कार्य के लिए दबाव बनाया जा रहा है। महामंत्री रंजय कुमार यादव ने कहा कि विकास भवन में स्थानांतरण उद्योग चलाया जा रहा है। उसे तत्काल रोका जाना चाहिए। संगठन सफाई कर्मचारियों की समस्याओं से लेकर आगे बढ़ने का काम करेगा और अपनी मांग मनवाकर रहेगा।

Posted By: Jagran