रेलवे का सामान चोरी करने वाला रिटायर्ड फौजी गिरफ्तार

-- रणविजय पहले नोएडा में करता था निजी जॉब, बाद में बनारस आकर रहने लगा

-----------------

-- रेलवे लाइन और इलेक्ट्रिक तार चोरी अंतरराज्यीय गिरोह का है मुख्य सरगना

-- फर्जी ठेकेदार बनकर कई स्टेशनों से किया था चोरी, पटना में लगाता था ठिकाने

-------------------

जागरण संवाददाता, सिकंदरपुर (बलिया) : हरदिया निवासी रिटायर्ड फौजी रणविजय सिंह को गांव के पास से गिरफ्तार कर लिया गया है। गुरुवार को सिकंदरपुर पुलिस की मदद से वाराणसी के सीआईबी इंस्पेक्टर अभय राय अपनी टीम के साथ उसे बनारस ले गए। रणविजय सिंह फौज से रिटायर्ड होकर नोएडा में प्राइवेट जॉब करता था। बाद में बनारस आकर रहने लगा। गांव से उसका कोई लगाव नहीं था। गांव पर कम ही आना-जाना था। सीबीआई इंस्पेक्टर अभय कुमार राय ने बताया कि रणविजय हरदिया सिवानकलां का निवासी है। वह रेलवे लाइन और इलेक्ट्रिक तार की चोरी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का मुख्य सरगना है। रेलवे का फर्जी ठेकेदार बनकर अब तक दानापुर, भागलपुर, कहलगांव, बगहा, मुजफ्फरपुर व नौगछिया समेत कई रेलवे स्टेशन के पास सामान की चाेरी करता था, उसे वह पटना बिहार में ठिकाने लगाता रहा है। 27 मार्च को वाराणसी के पास कादीपुर रेलवे स्टेशन यार्ड से रेल लाइन चुराने के प्रयास में पुलिस ने डीसीएम व हाईड्रा जब्त किया था और चालकों के गिरफ्तारी के बाद उसकी जानकारी हो सकी। वर्तमान में वह करीब सवा करोड़ का रेलवे सामान पटना में इकट्ठा कर कई कारखानों में बेच चुका है। परिवार वाले कुछ भी बताने से इन्कार कर रहे हैं।

Edited By: Jagran